Friday, Jan 18, 2019

राजधानी में फिर गिरी सीलिंग की गाज, पूर्वी दिल्ली में 16 फैक्ट्रियां हुई सील

  • Updated on 1/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अवैध फैक्ट्रियों के खिलाफ  कार्रवाई करते हुए शाहदरा साउथ जोन लाइसेंसिंग विभाग के अधिकारियों ने वीरवार को 16 अवैध फैक्ट्रियों को सील कर दिया। इस दौरान सीलिंग दस्ते को कई जगह विरोध का सामना भी करना पड़ा। लेकिन पुलिस बल की मौजूदगी के चलते सीलिंग कार्रवाई में कोई बाधा नहीं आई।

शाहदरा साउथ जोन उपायुक्त दीपक शिंदे ने बताया कि शाहदरा साउथ जोन के अंतर्गत जगतपुरी, कृष्णानगर, भीकम सिंह कॉलोनी और गांधीनगर के रघुवरपुरा इलाके में अवैध रूप से चल रही फैक्ट्रियों के खिलाफ सीलिंग की कार्रवाई की गई। निगम अधिकारियों ने रघुवरपुरा में चार अवैध फैक्ट्रियों को सील किया, वहीं कृष्णानगर इलाके में पांच फैक्ट्रियों पर सीलिंग की कार्रवाई की।

किराया लेने में बसों की मशीनें फेल, सरकार ने 3 महीने में सभी ETM को बदलने का दिया निर्देश 

निगम अधिकारी जब जगतपुरी इलाके में एक फैक्ट्री पर सीलिंग की कार्रवाई करने गए, इसी दौरान स्थानीय निगम पार्षद दीपक मल्होत्रा को यह जानकारी मिली कि लाइसेंसिंग विभाग के अधिकारी अवैध फैक्ट्रियों को सील कर रहे हैं तो उन्होंने मौके पर पहुंचकर अधिकारियों से कहा कि फैक्ट्री मालिकों को दो दिन की मोहलत दे दी जाए, ताकि लोग अपनी फैक्ट्रियों को खाली कर मिसयूज का पैसा निगम में जमा कराकर शपथ पत्र दे सकें।

निगम अधिकारियों ने उनकी बात मानते हुए दो दिन की मोहलत दे दी। इसके बाद जब निगम अधिकारी भीकम सिंह कॉलोनी पहुंचे तो वहां निगम अधिकारियों ने छह अवैध फैक्ट्रियों पर सीलिंग की कार्रवाई की। 

रामलीला मैदान के आसपास संभलकर निकलें, दो दिन के लिए ये मार्ग रहेंगे बंद

गौरतलब है कि पूर्वी निगम की तरफ से 2004 के सर्वे में पाई गई 6511 अवैध फैक्ट्रियों पर सीलिंग अभियान शुरू होना है। इसके तहत शाहदरा नॉर्थ जोन में 2303 फैक्ट्रियों की पहचान हुई, जबकि बाकी साउथ जोन में थीं। नॉर्थ जोन में सिर्फ  199 फैक्ट्रियां चलती हुई मिली, जबकि बाकी 2104 फैक्ट्रियां खाली कर दी गई हैं।

 नॉर्थ जोन ने 170 फैक्ट्रियों को नोटिस जारी कर दिए हैं, जिसमें से 132 का मंगलवार तक सर्वे कर लिया गया है। करीब 20 फैक्ट्री मालिकों ने फैक्ट्री खाली करने के बाद मिसयूज चार्ज के रूप में 32 लाख रुपए जमा भी करा दिया है। साउथ जोन में 330 फैक्ट्रियों को नोटिस जारी हो चुके हैं और अभी करीब 170 संपत्तियों के सर्वे का काम बाकी है।

CBI मामले में स्वामी बोले- फर्जी कानूनी जानकारों की बात नहीं सुनें PM मोदी

बाहर लगा था ताला, अंदर हो रहा था काम, निगम ने सील लगा दी
निगम अधिकारियों ने भीकम सिंह कॉलोनी में एक फैक्ट्री पर सीलिंग की कार्रवाई की, कुछ देर बाद ही फैक्ट्री मालिक निगम अधिकारियों के पास पहुंचा उसने बताया कि अधिकारियों ने उनकी जो फैक्ट्री सील की है, उसमें पांच लोग बंद हो गए हैं। दरअसल निगम अधिकारियों ने जिस फैक्ट्री को सील किया था उस पर ताला लगा हुआ था।

लेकिन अंदर पांच लोग काम कर रहे थे। निगम अधिकारियों का कहना है कि सील करते समय कई बार फैक्ट्री मालिक के बारे में पूछताछ की गई लेकिन वह मौके पर नहीं थे। निगम अधिकारियों ने 32/1 भीकम सिंह कॉलोनी की इस फैक्ट्री की सील खोल कर अंदर बंद लोगों को बाहर निकालने के बाद फैक्ट्री को देाबारा सील कर दिया। फैक्ट्री में पेंट का काम होता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.