विदेश के पैसे जुटाना होगा आसान, SEBI ने दिया कंपनियों को ये खास प्रस्ताव

  • Updated on 12/5/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जल्द ही भारतीय कंपनियां विदेशी स्टॉक एक्सचेंजों में लिस्टिंग कराकर पैसा जुटा सकेंगी। एक उच्च स्तरीय पैनल ने स्टॉक मार्कीट रैग्युलेटर (सेबी) को ऐसा सुझाव दिया। पैनल ने सिफारिश की कि भारतीय कंपनियां  को सीधे विदेशी स्टॉक एक्सचेंजों में और विदेशी कम्पनियों को भारत में लिस्टिंग की अनुमति दी जानी चाहिए।

बैंकों का सारा पैसा चुकाने के लिए तैयार माल्या, खुद ट्वीट कर दिया ये ऑफर

 फिलहाल भारतीय कम्पनियां डिपॉजिटरी रिसीट्स के माध्यम से विदेश में अपने शेयरों की लिस्टिंग करवा सकती हैं जबकि विदेशी कम्पनियां भारत में इंडियन डिपॉजिटरी रिसीट का रूट चुनकर अपने शेयरों की लिस्टिंग कराती हैं। इसके अलावा भारतीय कम्पनियां ‘मसाला बॉन्ड’ के नाम से पहचाने जाने वाले एक सिक्योरिटी इंस्ट्रूमेंट के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय एक्सचेंजों में सीधे अपनी डेट सिक्योरिटीज की लिस्टिंग करवा सकती हैं।

RBI ने किया क्रेडिट पॉलिसी का खुलासा, जानें रेपो रेट में कितना हुआ बदलाव

अपनी 26 पेज की रिपोर्ट में कमेटी ने भारतीय कम्पनियों को विदेशी कम्पनियों को भारत में सीधे लिसिं्टग की अनुमति देने का सुझाव दिया है। सुझाव दिया गया कि फ्रेमवर्क  के तहत ‘स्वीकृत क्षेत्रों’ के स्टॉक एक्सचेंजों पर ही लिसिं्टग की अनुमति दी जानी चाहिए। ‘स्वीकृत क्षेत्रों’ में ऐसे देश शामिल हैं जिनके साथ किसी तरह की जांच की स्थिति में सूचनाएं सांझा करने और सहयोग करने के लिए संधि हो चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.