Friday, Jul 01, 2022
-->
senior citizens files petition in delhi high court withdrawal rs 5 lakh from pmc bank prshnt

कोरोना से परेशान बुजुर्ग ने दिल्ली हाईकोर्ट दायर की याचिका, PMC बैंक से पैसे निकालने की मांग

  • Updated on 5/28/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना संकट (Coronavirus) के बीच सभी आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं, ऐसे में दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में पीएमसी बैंक के एक सीनियर सिटीजन खाताधारक ने बैंक से 5 लाख निकालने की सुविधा देने की मांग की है। सीनियर सिटीजन द्वारा दायर की गई याचिका में कहा गया है कि कोरोना के समय सीनियर सिटीजंस के लिए उनकी सेविंग ही उनका आर्थिक सहारा है और आर्थिक तंगी के चलते सीनियर सिटीजंस को रोज अपनी जिंदगी आर्थिक अभाव के कारण जद्दोजहद के साथ जीनी पड़ रही है। इसके अलावा पीएमसी बैंक से पैसा ना निकाल पाने के कारण मेडिकल सुविधाओं से भी दूर है।

फ्रांस के राफेल से पहले  ही वायूसेना को मिला तेजस विमानों का जत्था

आरबीआई को कोर्ट की तरफ से निर्देश देने की मांग
हाई कोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि पीएमसी बैंक में 9 लाख खाताधारक शामिल है, जिसमें तीन लाख सीनियर सिटीजन है। ऐसे में सीनियर सिटीजन को समय पर पैसा ना मिलने के चलते कईयों की मौत तक हो चुकी है। हाई कोर्ट में लगाई गई याचिका में कहा गया है कि सीनियर सिटीजन को 5 लाख तक की रकम पीएमसी बैंक से निकालने के लिए आरबीआई को कोर्ट की तरफ से निर्देश दे दिए जाए।

आईआरबीआई को इस मामले में पक्षकार बनाया गया है क्योंकि आरबीआई के एक सर्कुलर के हिसाब से पीएमसी बैंक पर नियामक प्रतिबंध 23 मार्च 2020 से 22 जून 2020 तक 3 महीने के लिए बढ़ा दी गई है, ऐसे में सीनियर सिटीजन के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है।

सरकार ने बदले कंपनी नियम, अब पीएम केयर्स में दिया पैसा माना जाएगा CSR

बैंक को भी लीखे गए पत्र
दिल्ली हाई कोर्ट में लगाई गई याचिका में कहा गया है कि कई बुजुर्गों ने बैंकों को अपनी राशि निकालने के लिए पत्र भी लिखे हैं, लेकिन बैंक के अधिकारियों की तरफ से उन्हें कोई जवाब नहीं दिया गया। याचिकाकर्ता की तरफ से वकील ने बताया कि हर महीने बैंक में 90 करोड़ का ब्याज आ रहा है ऐसे परेशान सीनियर सिटीजन के लिए 5 लाख तक की रकम निकालने के देने की सुविधा की जाए।

राहुल गांधी ने की दुनिया के नामी हेल्थ विशेषज्ञों से बातचीत, जानिए 6 खास बिंदु

नियर सिटीजन खाताधारकों के लिए यह दोहरी मार
बता दें कि पीएमसी बैंक में लोगों का 11000 करोड़ रुपए जमा है और इस बैंक में उन लोगों के खाते हैं जो बेहद गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार से आते हैं, इस बैंक में टैक्सी ड्राइवर, पेंशनर, छोटे कारोबारी, इन लोगों के खाते हैं। ऐसे में आरबीआई द्वारा लगाए गए प्रतिबंध का सबसे ज्यादा नुकसान इन्हीं को हुआ है, इसमें सीनियर सिटीजन खाताधारकों के लिए यह दोहरी मार है क्योंकि उनके लिए यही एक आय का जरिया है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.