Saturday, Jul 20, 2019

सेंसेक्स 793 अंक गिरा, निवेशकों के 5,61,773 करोड़ रुपए डूबे 

  • Updated on 7/9/2019

नई दल्ली/टीम डिजिटल। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट के दौरान की गई घोषणाओं के बाद शेयर बाजार में निवेशकों के 5,61,773 करोड़ रुपए डूब गए हैं। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध कंपनियों का मार्कीट कैपिटलाइजेशन बजट से पहले 4 जुलाई को 1,53,58,075.53 करोड़ था जोकि सोमवार को कम होकर 1,47,96,302.89 करोड़ रुपए रह गया है।

2 कारोबारी सत्रों के दौरान 424 अंक की गिरावट
बजट के बाद लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में करीब 793 अंक की गिरावट देखी गई और सोमवार को सैंस्क्स 38,720.57 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 252.55 अंक की गिरावट के साथ 11,558.60 पर बंद हुआ। सैंसेक्स 5 जुलाई के अपने उच्चतम स्तर से 1312 अंक लुढ़क चुका है। 5 जुलाई को सैंसेक्स 39,990 अंक पर खुला था और इसने 40,032 का उच्चतम स्तर देखा था जबकि निफ्टी 5 जुलाई को बजट के दिन 11,965 अंक पर खुला था और 11,982 का उच्चतम स्तर देखने के बाद 11,811 पर बंद हुआ था। इस लिहाज से निफ्टी में पिछले 2 कारोबारी सत्रों के दौरान 424 अंक की गिरावट आई है। 

पी.एम. की अपील का असर नहीं 
यह आलम तब है जब प्रधानमंत्री खुद इस बजट की प्रशंसा करते हुए आर्थिक विशेषज्ञों को नकारात्मकता न फैलाने की बात कह चुके हैं। प्रधानमंत्री ने कहा था कि प्रोफैशनली नैगेटिव लोग किसी भी अच्छे काम में कमी निकालने में माहिर हैं और इनकी बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए लेकिन प्रधानमंत्री की इस अपील के बावजूद शेयर मार्कीट में लगातार नकारात्मकता का माहौल है।  

सुपर रिच पर टैक्स की समीक्षा की तैयारी
शेयर बाजार में आई गिरावट के बाद वित्त मंत्रालय के अफसर भी हरकत में आ गए हैं और 2 से 5 करोड़ वालों की आय पर लगाए गए सरचार्ज की समीक्षा करने की तैयारी हो रही है। दरअसल फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वैस्टमैंट ने खुद को एसोसिएशन ऑफ पर्सन्ज (ए.ओ. पी.) के तहत पंजीकृत किया हुआ है। ये ए.ओ.पी. आयकर नियमों के मुताबिक इंडीविजुअल में काऊंट होते हैं और 2 से 5 करोड़ की आय वालों पर टैक्स लगाने के चलते करीब 2000 फॉरेन फंडों पर इसका असर होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.