Friday, Dec 13, 2019
sensex falls in early trade after selling of foreign portfolio investors

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की बिकवाली से शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स में गिरावट

  • Updated on 7/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शुरुआती कारोबार में शुक्रवार को सेंसेक्स में करीब 200 अंक की गिरावट देखी गयी। इसकी अहम वजह विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की ओर से भारी बिकवाली करना रही।

बीएसई का 30 कंपनियों वाला शेयर सूचकांक सेंसेक्स की शुरुआत 150 अंक से ज्यादा की तेजी के साथ हुई लेकिन तुरंत ही यह सारा बढ़त खत्म हो गयी। बाद में सुबह के कारोबार में यह 201.04 अंक अथवा 0.52 प्रतिशत टूटकर 38,696.42 अंक पर चल रहा है। शुरुआती एक घंटे के कारोबार के दौरान सेंसेक्स में करीब 400 अंक का उतार- चढ़ाव देखा गया। इसी तरह निफ्टी 66.75 अंक अथवा 0.58 प्रतिशत टूटकर 11,530.15 अंक पर चल रहा है।

पिछले सत्र के कारोबार में सेंसेक्स 38,897.46 अंक पर और निफ्टी 11,600.90 अंक पर बंद हुआ था। ब्रोकरों के अनुसार अमेरिकी फेडरल रिजर्व के दो वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा 30-31 जुलाई को होने वाली बैठक में नीतिगत दरों में भारी कटौती करने का संकेत दिए जाने से अधिकतर एशियाई बाजारों में शुरुआती कारोबार तेजी के रुख के साथ खुले। इसका असर घरेलू बाजार में भी देखा गया।

हालांकि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की भारी बिकवाली ने बाजार की धारणा को कमजोर किया और इसमें उल्लेखनीय गिरावट देखी गयी। आरंभिक आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बृहस्पतिवार को 1,404.86 करोड़ रुपये की निकासी की। इस बीच ब्रेंट कच्चा तेल 2.02 प्रतिशत की तेजी के साथ 63.18 डॉलर प्रति बैरल पर रहा।

शुरुआती कारोबार में रुपया 23 पैसे मजबूत

शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार को 23 पैसे टूटकर 68.74 पर खुला। मुद्रा कारोबारियों के अनुसार अमेरिकी फेडरल रिजर्व के इस माह के अंत तक नीतिगत ब्याज दरों में कमी की संभावना को लेकर निवेशकों के बीच सकारात्मक उम्मीद देखी गयी। न्यूयॉर्क फेडरल के अध्यक्ष जॉन विलियम्स और वाइस चेयरमैन रिचर्ड क्लारिडा की टिप्पणियों के बाद रुपया समेत अधिकतर एशियाई मुद्राओं में धारणा मजबूत रही।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 68.78 पर खुला। जल्द ही यह पिछले बंद के मुकाबले 23 पैसे चढ़कर 68.74 पर चल रहा है। बृहस्पतिवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 68.97 पर बंद हुआ था। इसी बीच विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की निकासी और घरेलू निवेशकों के सावधानीभरे रुख के चलते रुपया में यह बढ़त थमी है।   

आरंभिक आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बृहस्पतिवार को 1,404.86 करोड़ रुपये की निकासी की। इस बीच ब्रेंट कच्चा तेल 2.02 प्रतिशत की तेजी के साथ 63.18 डॉलर प्रति बैरल पर रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.