Wednesday, Jan 27, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 26

Last Updated: Tue Jan 26 2021 10:47 AM

corona virus

Total Cases

10,677,710

Recovered

10,345,278

Deaths

153,624

  • INDIA10,677,710
  • MAHARASTRA2,009,106
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA936,051
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,740
  • NEW DELHI633,924
  • UTTAR PRADESH598,713
  • WEST BENGAL568,103
  • ODISHA334,300
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,203
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,930
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,640
  • HIMACHAL PRADESH57,210
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
Sensex to rise to new high in early trade Nifty also gains rupee rise prshnt

सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में बढ़त से नए उच्च स्तर पर, निफ्टी में भी बढ़त, रुपया में उछाल

  • Updated on 1/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank), भारती एयरटेल (Bhartiya Airtel) और रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries Limited) के शेयरों में बढ़त से बुधवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक से अधिक की बढ़त के साथ नए उच्चस्तर पर पहुंच गया। विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से भी बाजार धारणा को बल मिला। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 201.65 अंक या 0.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,718.76 अंक पर पहुंच गया। इससे पहले इसने 49,776.29 अंक का अपना सर्वकालिक उच्चस्तर भी छुआ।  

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी शुरुआती कारोबार में 70.55 अंक या 0.48 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,634 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल का शेयर सबसे अधिक करीब चार प्रतिशत चढ़ गया ओएनजीसी, एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एनटीपीसी, एलएंडटी और एक्सिस बैंक के शेयर भी लाभ में थे। वहीं दूसरी ओर टाइटन, कोटक बैंक, डॉ. रेड्डीज, टीसीएस और एचसीएल टेक के शेयर नुकसान में कारोबार कर रहे थे।

कोरोना वैक्सीनेशन की वजह से टाला गया पोलियो अभियान, अगले आदेश तक रहेगा स्थगित

रुपया में 13 पैसे की बढ़त
घरेलू शेयर बाजारों में भारी लिवाली और विदेशी बाजारों में अमेरिकी मुद्रा में कमजोरी से बुधवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 13 पैसे की बढ़त के साथ 73.12 प्रति डॉलर पर खुला। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 73.16 प्रति डॉलर पर खुलने के बाद और मजबूत हुआ। बाद में यह पिछले बंद की तुलना में 13 पैसे की बढ़त के साथ 73.12 प्रति डॉलर पर कारोबार कर रहा था।  

मंगलवार को रुपया 73.25 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। इस बीच, छह मुद्राओं की तुलना में डॉलर का रुख दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.13 प्रतिशत टूटकर 89.98 पर आ गया।

सरकार ने गोबर पेंट को किया लॉन्च, गिनाए आठ फायदे

मंगलवार को शुरुआती कारोबार में 100 अंक से अधिक टूटा
बता दें कि सकारात्मक वैश्विक रुझानों और विदेशी कोषों की लगातार आवक के बावजूद प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान 100 अंक से अधिक टूट गया और इस दौरान एचडीएफसी , कोटक बैंक  और आईसीआईसीआई बैंक जैसे बड़े शेयरों में गिरावट हुई।  

इस दौरान 30 शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 117.77 या 0.24 फीसदी टूटकर 49,151.55 पर कारोबार कर रहा था। इसी प्रकार व्यापक एनएसई निफ्टी 20.95 अंक या 0.14 प्रतिशत फिसलकर 14,463.80 अंक पर आ गया। सेंसेक्स में सबसे अधिक दो प्रतिशत की गिरावट इंडसइंड बैंक में हुई। इसके अलावा कोटक बैंक, टाइटन, एशियन पेंट्स, बजाज ऑटो, टेक महिंद्रा और एचडीएफसी भी लाल निशान में कारोबार कर रहे थे।   

कोविड -19 वैक्सीन: जानें किस शहर को मिली कितनी खुराक, शनिवार से शुरू होगा टीकाकरण

मुद्रा में तेजी
वहीं अमेरिकी मुद्रा में तेजी और घरेलू शेयर बाजार में सुस्ती के चलते रुपया मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान अमेरिकी डॉलर के मुकाबले चार पैसे टूटकर 73.44 के स्तर पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में घरेलू इकाई अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.42 पर खुली और फिर 73.44 तक गिर गई, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले चार पैसे की गिरावट को दर्शाता है।     

रुपया सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.40 पर बंद हुआ था। रिलायंस सिक्योरिटीज ने एक शोध टिप्पणी में कहा कि एशियाई मुद्राओं में कमजोरी के चलते बाजार की धारणा कमजोर हो सकती है, हालांकि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के घरेलू शेयर बाजार में निवेश जारी रखने से नुकसान की भरपाई हो सकती है।      

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.