Tuesday, Jan 18, 2022
-->
Shadow crisis on Uttarakhand''s CM Legislature party meeting possible today PRSHNT

उत्तराखंड के सीएम पर छाया संकट, आज विधायक दल की बैठक संभव

  • Updated on 3/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) को हटाने की पिछले कई दिनों से चल रही चर्चा के बीच सोमवार को दिल्ली में दिनभर और देर रात तक बैठकों का दौर चलता रहा। आखिरी बैठक देर रात तक भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के आवास पर चली लेकिन, बैठक में क्या हुआ इसका खुलासा नहीं हुआ। हालांकि, सूत्रों का दावा है कि त्रिवेंद्र रावत से इस्तीफा ले लिया गया है। मंगलवार को देहरादून में विधायक दल की बैठक हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री रावत मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह एवं बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने वाले हैं। उनका हटना तय हैं सिर्फ अगला मुख्यमंत्री कौन होगा उसी पर मंथन चल रहा है। हाईकमान रावत से नाराज है।

गृह मंत्रालय के आदेश पर NIA ने संभाली अंबानी के घर के निकट मिले वाहन मामले की जांच

उत्तराखंड की राजनीति को लेकर चर्चा
इससे पहले संसद में भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह एवं पार्टी के संगठन महासचिव बीएल संतोष के बीच बैठक हुई। बैठक में मुख्य तौर पर उत्तराखंड की राजनीति को लेकर चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री की तीनों नेताओं के साथ मुलाकात भी हुई है। इस मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी के सरकारी आवास पर गए और वहां कुछ देर तक रहे। 

सूत्रों की मानें तो अगर उत्तराखंड में नेतृत्व परिवर्तन होता है तो भाजपा के कई नेताओं के नाम पर  विचार-विमर्श हो सकता है।  इनमें राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक और नैनीताल सांसद अजय भट्ट प्रमुख तौर से शामिल हैं। दावेदारों में से एक हैं। यहां से मुख्यमंत्री सीधे जेपी नड्डा के आवास पर गए जहां देर रात तक मौजूद रहे।

महिला किसानों ने महिला दिवस के मौके पर प्रदर्शन स्थलों पर संभाला मोर्चा 

17 भाजपा विधायकों ने हाईकमान को मुख्यमंत्री के खिलाफ पत्र लिखा
बता दें कि उत्तराखंड में फरवरी 2022 में विधानसभा चुनाव भी है। इसलिए पार्टी कोई भी कदम फूंक-फूंककर ही रखना चाह रही है। दो दिन पहले सियासी भूचाल के बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दो पर्यवेक्षकों, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह एवं प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम को उत्तराखंड भेजा था।

पर्यवेक्षक भेजने की पुष्टि खुद भाजपा अध्यक्ष नडडा ने दो दिन पूर्व की थी। साथ ही यह कहा था कि उनकी रिपोर्ट आने के बाद कुछ फैसला लिया जाएगा। सूत्रों की मानं तो राज्य के 17 भाजपा विधायकों ने हाईकमान को मुख्यमंत्री के खिलाफ पत्र लिखा था। इसके बाद से ही मामला गरमाया हुआ है।

भारतीय स्वाधीनता के 75 साल, प्रधानमंत्री 12 मार्च को ‘अमृत महोत्सव’ की शुरूआत करेंगे

उत्तराखंड कोर ग्रुप की बैठक
बता दें कि हाल ही में त्तराखंड में नेतृत्व परिवर्तन की बढ़ती अटकलों के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सोमवार को दिल्ली पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने मुख्यमंत्री के दिल्ली रवाना होने की पुष्टि की लेकिन कहा कि उनके दिल्ली जाने में कोई असामान्य बात नहीं है। हालांकि, सूत्रों ने बताया कि पार्टी हाईकमान ने मुख्यमंत्री रावत को दिल्ली बुलाया है और शनिवार को यहां दो केंद्रीय पार्टी पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में हुई उत्तराखंड कोर ग्रुप की बैठक के बाद अब रावत से दिल्ली में चर्चा की जाएगी।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.