Thursday, Apr 02, 2020
shaheen bagh protesters letter to supreme court seeking investigation forcible removal

शाहीन बाग: पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ SC पहुंचे प्रदर्शकारी, की ये मांग

  • Updated on 3/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूरे देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रसार तेजी से हो रहा है। इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए भारत सरकार ने 21 दिन तक पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) किया है। वहीं दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) से भी प्रदर्शनकारियों को हटा दिया गया। है। पुलिस की कार्रवाई से नाराज प्रदर्शनकारियों ने अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में गुहार लगाई है। प्रदर्शनकारियों ने सुप्रीम कोर्ट को एक पत्र लिखा है।

इस पत्र में उन्होंने दिल्ली पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई पर आपत्ति जताई है, इसके साथ ही मामले की जांच करने की मांग भी की है। प्रदर्शनकारियों ने नागरिक अधिकारों का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की है। बता दें कि प्रदर्शनाकरियों को शाहीन बाग से हटाने के बाद वहां लोगों ने दिल्ली और नोएडा को जोड़ने वाली सड़क पर जो टैंट लगाया था और सड़क पर उनका जो कुछ भी सामान पड़ा था, पुलिस वालों ने वहां से सब कुछ हटा कर सड़क को बिल्कुल खाली कर दिया है। 

कोरोना पॉजिटिव पाए गए शाहीन बाग के 2 प्रदर्शनकारी, दिल्ली में बढ़ी संक्रमितों की संख्या

15 दिसंबर से चल रहा था प्रदर्शन
शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ 15 दिसंबर से ये धरना प्रदर्शन अनवरत जारी था। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बाद भी प्रदर्शनकारी अपने स्थान से हटने को तैयार नहीं थे। दिल्ली को लॉकडाउन करने की घोषणा कर दी गई थी।उसके बाद 24 मार्च को दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग में ये कार्रवाई की। दिल्ली में धारा 144 लागू कर दी गई थी। 

दिल्ली पुलिस ने इस तरह दिया ऑपरेशन शाहीनबाग को अंजाम, Corona बना ढाल

बल पूर्वक पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाया
इसके बाद भी प्रदर्शनस्थल पर 24 मार्च की सुबह कई महिलाएं एकत्रित होने लगी। पुलिस की मानें तो उन्होंने उनसे वहां से हट जाने का आग्रह किया। पुलिस वाले उन्हें लगाता कोरोना वायरस के प्रसार के विषय में भी जानकारी दे रहे थे। इसके साथ ही उन्हें ये भी बताया गया कि दिल्ली में धारा 144 लगाू है। बावजूद इसके प्रदर्शनकारी नहीं माने। जिसके बाद पुलिस को बल पूर्वक वहां से प्रदर्शनकारियों को हटाना पड़ा। अब पुलिस की इस कार्रवाई से नाराज प्रदर्शनकारियों ने सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखकर मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है। 

शाहीन बाग खाली कराने पर कपिल मिश्रा की खिलीं बांछें, किया ये कटाक्ष

शाहीन बाग के 2 प्रदर्शनकारियों को कोरोना
बता दें कि शाहीन बाद में प्रदर्शन करने वाले 2 लोगों को कोरोना संक्रमित पाया गया है। दोनो मां और बेटे को कोरना संक्रमण होने की पुष्टी हुई है। मां और बेटे दोनों ही कोरोना पॉजिटव हैं। दिल्ली के लोकनायक अस्पताल में दोनों का उपचार चल रहा है। दिल्ली में अब तक 35 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टी हो चुकी है। वहीं देश भर में 600 से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। 

comments

.
.
.
.
.