फिर दिखी 'किंग खान' की दरियादिली, पैरा एथलीटों को दान किए 50 व्हीलचेयर

  • Updated on 12/4/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड के अभिनेता शाहरुख खान के स्टारडम से तो आप सभी परिचित ही हैं, लेकिन क्या आप जानते है शाहरुख जितने बड़े एक्टर हैं उससे भी बड़ा उनका दिल है। शाहरुख खान अपने व्यस्त शेड्यूल से भी समय निकाल कर किसी न किसी जरूरतमंद की मदद करने पहुंच जाते हैं। उनकी दरियादिली का ताजा नमूना हाल ही में सामने आया है।

हाल ही में एशियाई पैरा खेल 2018 में भारतीय आकस्मिक के लिए पीसीआई सेंड-ऑफ में भाग लेने वाले सुपरस्टार शाहरुख खान ने दीपा मलिक के साथ आगे बढ़ कर पैरा-एथलीटों को अपना समर्थन दिया है। अभिनेता ने खेल के लिए उत्साह दिखाने वाले लोगों के प्रति अपना समर्थन दिखाते हुए एथलीट को 50 व्हीलचेयर दान किए।

बता दें कि जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए शाहरुख गैर-लाभकारी संगठन मीर फाउंडेशन साथ भी जुड़े हुए हैं और लगातार उन लोगों के प्रति काम कर रहे हैं पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। शाहरुख खान के साथ पैरालीम्पिक खेलों में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला दीपा मलिक भी इस कार्यक्रम में शरीक हुईं। दीपा मलिक भी अपनी फाउंडेशन व्हीलिंग हैप्पीनेस के माध्यम से शाहरुख खान के साथ मिलकर जरूरतमंदों की सहायता करती आई हैं। 

आस्ट्रेलियन ओपन में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे 10 ‘बाल किड

इस बारे में बात करते हुए शाहरुख खान ने कहा, इस तरह के धार्मिक कार्य के लिए दीपा मलिक के साथ सहयोग करना एक विशेषाधिकार है। वह सिर्फ कई लोगों के लिए एक प्रेरणा नहीं है बल्कि खुद का एक प्रतिबिंब है क्योंकि हम सभी किसी ना किसी मायने में अधूरे होते है, यह केवल इस बात पर निर्भर करता है कि हम अपनी अपूर्णताओं को कैसे गले लगाते हैं और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करते हैं। भविष्य के पैरा-एथलीटों का अभिनंदन करते हुए, हम पैरालाम्पिक्स में भारत का प्रतिनिधित्व करने के सपने को प्राप्त करने की दिशा में कदम बढ़ा रहे है।

व्हीलिंग हैप्पीनेस फाउंडेशन की सह-संस्थापक दीपा मलिक ने इस एसोसिएशन पर अपने विचार साझा करते हुए कहा, यह शाहरुख खान की मीर फाउंडेशन द्वारा समानतापूर्ण कदम है जिन्होंने पैराथलेट को सक्षम करने के लिए व्हीलिंग हैप्पीनेस के प्रति अपना समर्थन बढ़ाया है क्योंकि यह न केवल उन्हें सुविधाजनक बनाता है बल्कि उनके आत्मविश्वास को भी बढ़ावा देता है।

प्रियंका- निक की शादी की तस्वीरों ने सामने आते ही मचाया धमाल

मीर फाउंडेशन एक गैर-लाभकारी संगठन है जिसका लक्ष्य जमीन के स्तर पर परिवर्तन को प्रभावित करना और महिलाओं को शक्ति प्रदान करने वाली दुनिया बनाने के हित मे काम करना है। महिला सशक्तिकरण के तहत प्रमुख फोकस क्षेत्रों में से एक देश भर में एसिड अटैक का शिकार हुए लोगों को समर्थन प्रदान करना रहा है। मीर फाउंडेशन 360 डिग्री के दृष्टिकोण के माध्यम से एसिड हमलों और प्रमुख जली हुई चोट से पीड़ितों को समर्थन प्रदान करता है जो उन्हें उनके चिकित्सा उपचार, कानूनी सहायता, व्यावसायिक प्रशिक्षण के साथ-साथ पुनर्वास और आजीविका समर्थन में मदद करता है।

फाउंडेशन का प्रयास केवल एसिड हमले के पीड़ितों की मदद करने तक ही सीमित नहीं हैं। फाउंडेशन ने देश भर के कई अस्पतालों में महिलाओं और बच्चों के लिए उपचार और सर्जरी स्पोंसर की है। इसके अलावा, मीर फाउंडेशन ने स्वास्थ्य शिविर, फिल्म स्क्रीनिंग और दिव्यांग महिलाओं और बच्चों के लिए इवेंट आयोजन करने में भी मदद की है। हाल ही में, मीर फाउंडेशन ने केरल बाढ़ के पीड़ितों को भारी मात्रा में दान कर के उनके प्रति मदद का हाथ बढ़ाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.