Friday, Aug 19, 2022
-->
sharad pawar ncp chief attacks bjp modi govt over economy slowdown

शरद पवार ने आर्थिक मंदी को लेकर पीएम मोदी पर साधा निशाना

  • Updated on 9/19/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने बृहस्पतिवार को कहा कि कितने नये कारखाने शुरू हुए, यह बताने के बजाय प्रधानमंत्री को यह बताना चाहिए कि आर्थिक सुस्ती के कारण कितने कारखाने बंद हुए? 
 

बलात्कार पीड़िता की आत्महत्या पर NHRC का योगी सरकार को नोटिस

महाराष्ट्र चुनाव से पहले पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि पूर्व कपड़ा उद्योग नगरी मुंबई में ‘‘मराठी मानुस’’ को रोजगार से हाथ गंवाना पड़ रहा है। पवार ने नांदेड़ में कहा, ‘‘देश में आर्थिक सुस्ती चल रही है। यदि सुस्ती जारी रही तो अर्थव्यवस्था संकट में आ जाएगी। निवेश गतिशीलता गड़बड़ा गयी है।’’ 

बाबुल सुप्रियो से यूनिवर्सिटी छात्रों ने की धक्का-मुक्की, राज्यपाल को घेरा

उन्होंने बाद में ट्वीट कर कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि देश में नये कारखाने खुल रहे हैं। किंतु कितने खुले, यह बताने के बजाय उन्हें इस बात की घोषणा करनी चाहिए कि कितने कारखाने बंद हुए?’’ राकांपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि लाखों युवक बेरोजगार हैं। 

CJI गोगोई पर यौन प्रताड़ना का आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ केस बंद

एक सभा में पवार ने कहा कि मुंबई की कपड़ा मिलों में से केवल दस का ही परिचालन हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘मुंबई एक समय विश्व में सबसे बड़ा कपड़ा केन्द्र हुआ करती थी। 120 कपड़ा मिलें हुआ करती थीं जिनमें चार लाख कामगार काम करते थे....अब इन मिलों की जगह 30 मंजिला, 40 मंजिला भवन बन गये हैं, जहां हमें मराठी मानुस देखने को नहीं मिलते, संपत्तियां अन्य लोगों के हाथों में चली गयी हैं।’’ 

स्टिंग प्रकरण को लेकर हरीश रावत बोले- मुझे षड्यंत्रपूर्वक फंसाया गया

पूर्व केन्द्रीय कृषि मंत्री ने समयावधि का उल्लेख किया बिना कहा कि अकेले महाराष्ट्र में करीब 16 हजार किसानों ने आत्महत्या की है। राकांपा प्रमुख ने कहा, ‘‘किंतु उन्हें (सत्तारूढ़ दल) किसानों से कोई लेनादेना नहीं है। वे कहते हैं कि वे कंपनियों का कर्ज माफ कर देंगे किंतु किसानों का नहीं क्योंकि कंपनियां रोजगार देती हैं। किंतु जो हमारा पेट भरता है, उसका कर्ज माफ नहीं किया जाएगा।’’ 

स्पा सेंटरों में सेक्स रैकेट को लेकर दिल्ली महिला आयोग का Justdial को नोटिस

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.