Tuesday, Oct 26, 2021
-->
Sharad Pawar opened front against NCB after Nawab Malik in Aryan khan drug case rkdsnt

आर्यन खान ड्रग्स केस में नवाब मलिक के बाद शरद पवार NCB के खिलाफ खोला मोर्चा

  • Updated on 10/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने बुधवार को दावा किया कि विपक्ष को निशाना बनाने के लिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई), प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) समेत केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार से जुड़ी कंपनियों पर आयकर विभाग के छापों का जिक्र करते हुए राकांपा अध्यक्ष ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि एजेंसी के अधिकारी बुधवार को छठे दिन छापे की कार्रवाई कर रहे हैं जो बहुत असामान्य है।

 लखीमपुर मामले में आरोपी आशीष का दोस्त अंकित दास गिरफ्तार, SIT की पूछताछ जारी 

उन्होंने कहा, ‘‘ईडी, सीबीआई और एनसीबी जैसी केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है।’’ पवार ने यह भी कहा कि मुंबई पुलिस के नारकोटिक्स (मादक पदार्थ) रोधी प्रकोष्ठ ने एनसीबी से बेहतर काम किया है। महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना और कांग्रेस के साथ शामिल राकांपा ने पहले कहा था कि वह अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं पर केंद्रीय एजेंसियों के हमलों का पूरी ताकत के साथ सामना करेगी। 

हत्या मामला : कोर्ट ने तय की गुरमीत राम रहीम की सजा पर फैसले की अगली तारीख

आयकर विभाग ने वरिष्ठ राकांपा नेता अजित पवार के रिश्तेदारों के राज्य में स्थित कंपनियों पर छापे मारे थे। वरिष्ठ राकांपा नेता और प्रदेश के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख भी अनेक आरोपों में केंद्रीय एजेंसियों की जांच का सामना कर रहे हैं। एनसीबी ने हाल में अनेक छापे मारे हैं। उनके से कई छापे र्चिचत लोगों के यहां मारे गए हैं।  

भारत के खिलाफ मानवाधिकार उल्लंघन के झूठे आरोप लगाना आम हुआ : NHRC चीफ जस्टिस मिश्रा

पवार का फडणवीस पर कटाक्ष 
राकांपा अध्यक्ष शरद पवार बुधवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस पर कटाक्ष किया, जिन्होंने कहा था कि वह अभी भी महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री होने जैसा महसूस करते हैं पवार ने कहा कि वह चार बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, इसके बावजूद उन्हें कभी ऐसा नहीं लगा। फडणवीस ने मंगलवार को कहा कि लोगों के प्यार की वजह से उन्हें ऐसा नहीं लगता कि अब वह मुख्यमंत्री नहीं हैं। इस पर पवार ने कहा,‘‘अच्छा है कि भाजपा नेता अभी तक स्वयं को मुख्यमंत्री मानते हैं। मैं उन्हें बधाई देता हूं। पांच साल तक मुख्यमंत्री रहने के बाद भी फडणवीस को लगता है कि वह इस पद पर हैं। मेरे पास इस विशेषता की कमी रही। मैंने चार बार (महाराष्ट्र के) मुख्यमंत्री के रूप में काम किया, किंतु मुझे कभी ऐसा नहीं लगा।‘‘ 

नरेंद्र गिरि मामले में बढ़ सकती हैं आनंद गिरि की मुश्किलें, : CBI ने पॉलीग्राफ टेस्ट की मांगी इजाजत

फडणवीस ने नवी मुंबई में एक कार्यक्रम में कहा था कि महाराष्ट्र के लोगों ने मुझे कभी यह महसूस नहीं कराया कि मैं मुख्यमंत्री नहीं हूं। उन्होंने कहा,‘‘मुझे अब भी लगता है कि मैं मुख्यमंत्री हूं क्योंकि मैं पिछले दो साल से राज्य में घूम रहा हूं। लोगों का प्यार और स्नेह कम नहीं हुआ है।‘‘ साल 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा को सबसे अधिक सीटें मिली थीं, लेकिन बहुमत से दूर होने के चलते वह सरकार नहीं बना पाई थी। इसके बाद शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस ने गठबंधन सरकार बनाई थी और उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने थे।

आजादी के बाद से सावरकर को बदनाम करने की मुहिम से परेशान RSS चीफ मोहन भागवत

comments

.
.
.
.
.