Sunday, Jan 23, 2022
-->
Shiv Sena also raised questions about China aggression After Rahul Gandhi rkdsnt

चीन की आक्रामकता को लेकर राहुल गांधी के बाद शिवसेना ने भी उठाए सवाल

  • Updated on 1/14/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक खबर का हवाला देते हुए शुक्रवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने चीन की आक्रामकता के खिलाफ अपनी ‘अकर्मण्यता’ से मित्र पड़ोसी देशों को भी खतरे में डाल दिया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मोदी सरकार ने पहले हमारी भूमि सौंप दी और अब चीन को पीछे धकेलने में अपनी अकर्मण्यता से हमारे निकट पड़ोसियों को खतरे में डाल दिया है। अगर आप अपने लिए नहीं खड़े होंगे तो फिर अपने मित्रों के लिए कैसे खड़े होंगे?’’ 

चुनाव आयोग ने नए दलों के पंजीकरण नियमों में किया बदलाव, AAP ने उठाए थे सवाल

कांग्रेस ने जिस खबर का हवाला दिया उसमें दावा किया गया है कि चीन ने भूटान में अवैध तरीके से गांव बना लिए हैं।  भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्विक नियंत्रण रेखा पर पिछले कई महीनों से तनाव है। पिछले दिनों दोनों देशों की सेनाओं के बीच 14वें दौर की वार्ता में भारत ने पूर्वी लद्दाख में टकराव के शेष स्थानों से सैनिकों को शीघ्र पीछे हटाने पर जोर दिया। हालांकि इस वार्ता में सफलता नहीं मिली तथा दोनों पक्ष सैन्य एवं राजनयिक माध्यमों से करीबी संपर्क बनाए रखने और शेष मुद्दों के यथाशीघ्र ‘‘परस्पर स्वीकार्य समाधान’’ के लिए वार्ता जारी रखने को सहमत हुए। 

‘देश का मेंटॉर’ कार्यक्रम को लेकर सिसोदिया ने BJP पर बोला हमला, केजरीवाल भी गर्म

वार्ता के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों पक्ष अगले दौर की सीमा वार्ता यथाशीघ्र करने के लिए सहमत हुए हैं। भारतीय सेना प्रमुख जनरल एम. एम. नरवणे ने बुधवार को कहा था कि भारत 14वें दौर की वार्ता में पूर्वी लद्दाख में गश्त ङ्क्षबदु 15 (हॉट स्प्रिंग्स) पर सैनिकों को पीछे हटाने से जुड़े मुद्दों के हल के लिए आशान्वित था। राहुल गांधी ने एक अन्य खबर का हवाला देते हुए दावा किया कि सरकार ने कोविड से हुई मौतों को लेकर झूठ बोला जिसे पूरी दुनिया जानती है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘भारत सरकार झूठ बोलती है। दुनिया जानती है। भारत पीड़ा झेलता है।’’ 

भाजपा को चीन की ‘घुसपैठ’ के बारे में भी बोलना चाहिए: शिवसेना 
शिवसेना नेता संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा को भारतीय भू-भाग में चीन के ‘घुसपैठ’ के बारे में बोलना चाहिए और खुद को सिर्फ पाकिस्तान पर बोलने तक सीमित नहीं रखना चाहिए। नयी दिल्ली में संवाददाताओं से बात करते हुए राउत ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कोविड-19 से जुड़ी बैठक से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एवं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के दूर रहने के बारे में पूछे जाने पर भारतीय जनता पार्टी पर पलटवार करते हुए कहा, ‘‘भाजपा किसी भी तुच्छ मुद्दे के लिए महाराष्ट्र सकरार की आलोचना करती रहती है, जैसे कि उस पार्टी के पास कोई और काम नहीं है।’’ 

शहरी गैस वितरण में मेघा इंजीनियरिंग को 15, अडाणी टोटल को 14 लाइसेंस 

शिवसेना के राज्यसभा सदस्य राउत ने कहा, ‘‘पार्टी (भाजपा) को भारतीय भू-भाग में चीन की घुसपैठ के बारे में बोलना चाहिए। यह कहीं अधिक महत्वपूर्ण मुद्दा है। भाजपा चुनिंदा तरीके से पाकिस्तान का जिक्र करती है, लेकिन चीन का नहीं करती।’’ उल्लेखनीय है कि मई 2020 से पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच गतिरोध बना हुआ है। एक आधिकारिक बयान में बृहस्पतिवार को कहा गया था कि दोनों देशों की सेनाओं के बीच 14वें दौर की वार्ता में कोई सफलता नहीं मिली। 

अभिनेता रजा मुराद को मंत्री के आदेश पर स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर पद से हटाया गया

comments

.
.
.
.
.