Wednesday, Oct 20, 2021
-->
shiv sena counterattack bjp on veer savarkar asked why bharat ratna not been given pragnt

वीर सावरकर को लेकर शिवसेना का BJP पर पलटवार, पूछा- अब तक क्यों नहीं दिया भारत रत्न?

  • Updated on 10/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महाराष्ट्र (Maharashtra) में वीर सावरकर (Veer Savarkar) को लेकर फिर राजनीति गरम हो गई है। कांग्रेस (Congress) ने एक बार फिर वीर सावरकर को लेकर हमला बोला है। इस बीच कांग्रेस द्वारा सावरकर की आलोचना पर चुप्पी के लिए बीजेपी (BJP) द्वारा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) पर निशाना साधे जाने के एक दिन बाद शिवसेना (Shiv Sena) ने पलटवार किया है। उन्होंने पूछा कि भाजपा ने पूर्व हिंदुत्व विचारक को अब तक भारत रत्न क्यों नहीं दिया?

उद्धव ठाकरे के हमले पर BJP का पलटवार, कहा- अपनी सरकार के प्रदर्शन पर क्यों नहीं बोलते CM

संजय राउत ने साधा बीजेपी पर निशाना
महाराष्ट्र में कांग्रेस  महा विकास आघाड़ी सरकार में शिवसेना की सहयोगी है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी इस गठबंधन में तीसरा सहयोगी दल है। शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न 'महान और हिंदुत्ववादी नेता' सावरकर को दिया जाना चाहिए। शिवसेना की वार्षिक दशहरा रैली के दौरान रविवार को पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कोरोना वायरस की स्थिति की वजह से विशाल शिवाजी पार्क की जगह यहां दादर इलाके में सावरकर हॉल में अपना संबोधन दिया था।

बीजेपी-RSS और राज्यपाल पर भड़के उद्धव ठाकरे, कहा- सरकारें गिराने के बजाय सुधारें अर्थव्यवस्था

लगाया ये आरोप
प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने बाद में सत्ताधारी दल पर सत्ता के लिये हिंदुत्व से समझौते का आरोप लगाया। उपाध्ये ने कहा, 'उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस द्वारा सावरकर की आलोचना पर एक शब्द नहीं कहा और अब उन्हें सावरकर प्रेक्षागृह से दशहरा रैली को संबोधित करना पड़ा।' उनकी टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए राउत ने सोमवार को कहा कि शिवसेना 'कभी सावरकर से जुड़े मुद्दों पर चुप नहीं रही और कभी ऐसा करेगी भी नहीं।' भाजपा का नाम लिये बगैर राउत ने कहा कि पार्टी को सावरकर पर शिवसेना के रुख को लेकर इतिहास खंगालना चाहिए।

संजय राउत बोले- फडणवीस को अब कोरोना के हालात की गंभीरता का एहसास होगा

बीजेपी से पूछा ये सवाल
राज्यसभा सदस्य ने कहा कि वीर सावरकर हमेशा से शिवसेना और हिंदुत्व के प्रेरक रहे हैं। जो लोग हम पर सवाल उठा रहे हैं।वे वीर सावरकर को भारत रत्न क्यों नहीं देते?' राउत ने जानना चाहा, 'आपने अपने पिछले छह साल से शासन में कई लोगों को यह पुरस्कार दिया। वीर सावरकर को भारत रत्न देने में आपको क्या परेशानी थी?' महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों के बाद पिछले साल शिवसेना ने राज्य में लंबे समय से उसकी सहयोगी रही भाजपा का दामन छोड़ दिया था। शिवसेना ने सत्ता में साझेदारी और बारी-बारी से मुख्यमंत्री पद संभालने के मुद्दे पर एक राय न होने के बाद यह कदम उठाया था।

comments

.
.
.
.
.