Wednesday, Jun 16, 2021
-->
shiv sena sanjay raut said upa has become paralyzed sharad pawar should lead it pragnt

संजय राउत ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा- शरद पवार करें संप्रग का नेतृत्व

  • Updated on 3/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। शिवसेना (Shiv Sena) के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन अब 'लकवाग्रस्त' हो गया है इसलिए शरद पवार (Sharad Pawar) जैसे एक गैर कांग्रेसी नेता को गठबंधन का प्रमुख बनाया जाना चाहिए।

महाराष्ट्र संकट पर बोले संजय राउत, देशमुख के इस्तीफे की नहीं कोई जरूरत

शरद पवार करें संप्रग का नेतृत्व- राउत
राउत ने दिल्ली में संवाददाताओं से बातचीत में कहा, 'संप्रग अब लकवाग्रस्त हो गया है। मुझे लगता है कि राकांपा अध्यक्ष शरद पवार को राष्ट्रीय स्तर पर संप्रग का नेतृत्व करना चाहिए।' राउत ने इससे पहले भी कई बार ऐसा सुझाव दिया है। यह पूछे जाने पर कि क्या अन्य पार्टियां इस मांग का समर्थन करती हैं, उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि देश में किसी क्षेत्रीय पार्टी को पवार द्वारा संप्रग का नेतृत्व करने पर ऐतराज हो सकता है। इस समय हम सभी भाजपा विरोधी हैं।'

परमवीर के आरोपों पर शिवसेना ने फड़णवीस की रिपोर्ट को बेदम करार दिया

राउत के बयान पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने जताई नाराजगी
राउत के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा, 'शिवसेना संप्रग का हिस्सा भी नहीं है। यदि वह संप्रग का हिस्सा होती तो समझ में आता। उन्हें (राउत) इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए।' कांग्रेस के एक अन्य नेता और राज्यसभा के पूर्व सदस्य हुसैन दलवई ने कहा, 'शिवसेना को (पिछले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में) अधिक सीटें मिली थीं इसलिए मुख्यमंत्री का पद मिला। लेकिन शिवसेना अब भी संप्रग का हिस्सा नहीं है।'

महाराष्ट्र में 100 करोड़ वसूली के लक्ष्य की बात की हुई पुष्टि, वाजे ने कही ये बात

सचिन सावंत ने कहा ने कहा ये
उन्होंने कहा, 'राउत के बयान को गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए।' दलवई ने कहा, 'राउत को यह नहीं भूलना चाहिए कि महा विकास आघाडी सरकार कांग्रेस के समर्थन से बनी है। उन्हें इस तरह की बात कर के विवाद पैदा नहीं करना चाहिए।'

गृहमंत्री अनिल देशमुख ने CM ठाकरे को लिखा पत्र, कहा- 'वसूली के आरोपों की हो जांच'

देशमुख को पद से हटाई की जरूरत नहीं- राउत
वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) के खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, '(सिंह द्वारा लिखे गए) उस पत्र का मुद्दा एमवीए सरकार के लिए अब खत्म हो चुका है। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी इस मामले में किसी भी जांच का स्वागत किया है।' उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और अनिल देशमुख का मत है कि सिंह के पत्र में लगाए गए आरोपों की जांच होनी चाहिए। एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश जांच की निगरानी करेंगे इसलिए देशमुख को पद से हटाने की कोई जरूरत नहीं है।'

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.