Thursday, Aug 16, 2018

आदिवासी बनकर अपनी पत्नी के साथ डांस करते दिखे शिवराज सिंह चौहान, Video हुआ वायरल

  • Updated on 8/10/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों सांस्कृतिक कार्यों में हिस्सा लेने से कभी भी पीछे नहीं हटते है। इन दिनों भी उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें वो एक कार्यक्रम में झूमते नजर आ रहे है। बता दें कि यह वीडियो इंदौर के पार धार जिले में आदिवासी दिवस के दिन का है। जहां पर शिवराज सिंह चौहान को आंमत्रित किया गया था। आदिवासी दिवस होने के कारण  वहां पर मुख्यमंत्री आदिवासी परिधान पहने हुए दिखाई दिए थे।

वीडियो में साफ साफ देखा जा सकता है कि शिवराज सिहं चौहान  ने सिर पर पीले और गुलाबी रंग की पगड़ी पहनी हुई  है। इसके साथ ही उन्होंने पारंपरिक जैकेट भी पहनी है। इस कार्यक्रम के वीडियो में  उनके साथ उनकी  पत्नी साधना सिंह भी पारंपरिक परिधान में नजर आ रहीं हैं। मुख्यमंत्री पूरी तरह से आदिवासी लग रहे है। उनके हाथ में  हथियार के रूप में तीर कमान भी नजर आ रहे हैं। ये वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो को यूट्यूब के 

मानसून सत्र का आखिरी दिन, आज राज्यसभा में पेश होगा संशोधित तीन तलाक बिल

आपको बता दें कि इसी साल नवंबर महीने में मध्यप्रदेश में चुनाव होने हैं, इस लिहाज से भी शिवराज सिंह चौहान जनता से जुड़ने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं। अभी हाल ही में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अब राज्य के शहरों को अमे​रिका के शहरों से भी बेहतर बनाने की बात की थी।

चौहान ने कहा कि उनकी सरकार राज्य के शहरों को अमेरिका के शहरों से भी ज्यादा अच्छा बनाएगी। सागर शहर में नगर विकास के राज्य-स्तरीय पर्व को संबोधित करते हुए चौहान ने शनिवार को कहा, ‘मध्यप्रदेश के शहरों को अमेरिका के शहरों से भी अच्छा बना देंगे।’ 

गौरतलब है मध्यप्रदेश का इंदौर शहर देश में सबसे स्वच्छ शहरों की सूची में नंबर एक पर है। यह शहर कूड़ा प्रबंधन के साथ-साथ पर्यावरण अनुकूल हरित ईधन के प्रयोग को लेकर हाल ही में सुर्खियों में रहा है। ऐसे में इंदौर देश के अन्य शहरों के लिए मॉडल सिटी के ​रूप में उभरा है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.