Saturday, Jan 22, 2022
-->
shivsena said seats are worse than indo-pak partition

महाराष्ट्र चुनाव: शिवसेना ने कहा, भारत- पाक बंटवारे से भी भयंकर सीटों का बंटवारा

  • Updated on 9/24/2019

नई दिल्ली/ टिम डिजिटल। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Legislative Assembly election) की घोषणा के बाद से ही सभी पार्टियां तैयारियों में जूट गई है। चुनाव में भी कम समय रह गया है। इसी बीच शिवसेना (Shisena) और बीजेपी (BJP) में सीटों के बटवारे को लेकर असहमति की बात सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि आज दोनों पार्टियां सीटों के बटवारे को लेकर बड़ा ऐलान कर सकती है। इसी बीच शिवसेना के तेवर बदले से नजर आ रहे हैं, इन्होंने सीट बटवारे के मुद्दे की तुलना भारत और पाकिस्तान के बंटवारे से की है। बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सिटें हैं। और बताया जा रहा है कि बीजेपी और शिवसेना के बीच 150-120 सीटों को लेकर सहमति बन सकती है।

महाराष्ट्र विधान सभा चुनाव 2019: बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन हुआ तय, आज होगा सिटों के बटवारे पर ऐलान

सीटों के बंटवारे को लेकर संजय राउत बयान 
विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना के प्रवक्त्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र बहुत बड़ा है और यहा के 288 सीटों का बंटवारा भारत-पाकिस्तान के बंटवारे से भी भयंकर है। उन्होंने कहा आज हम अगर विपक्ष में बैठे होते तो तस्वीर कुछ और होती।  

महाराष्ट्र: कांग्रेस ने अनुच्छेद 370 पर शाह के भाषण को ध्यान भटकाने का हथकंडा बताया

पुणे और नासिक सीटों को लेकर असहमति
बताया जा रहा है कि शिवसेना 50-50 फॉर्म्युले की मांग कर रही थी। लेकिन अब दोनों पार्टियों के बीच 150-120 सीटों पर आपसी सहमति बन सकती है। पर अभी भी पुणे और नासिक जैसे महत्वपूर्ण जगह को लेकर दोनो पार्टियों में स्थिति साफ नहीं हुई है। पुणे और नासिक में सभी विधायक अभी बीजेपी से हैं। शिवसेना पुणे में दो और कम से कम एक सीट नासिक में चाहती है। वहीं ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी इन क्षेत्रों में वर्तमान विधायकों को ही सीट देना चाहती है।

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- नेहरु अगर दूरदर्शिता दिखाते तो pok भी भारत का अंग होता

शिवसेना के लिए नासिक और पुणे महत्वपूर्ण
बता दें कि शिवसेना के लिए नासिक और पुणे महत्वपूर्ण है। और अगर इन जगहों पर पार्टी चुनाव नहीं लड़ती है तो इन्हें डर है कि पार्टी अपनी पहचान खो सकती है। राज्य बीजेपी से पता चला है कि अभी दोनों पार्टियों ने 150-120 सीटों पर मान गई है वहीं 18 सीटों का बटवारा गठबंधन के अन्य दलों में दी जाएगी। लेकिन अभी भी सवाल नासिक और पुणे के सिटों पर बना हुआ है।

आने वाले चुनाव में ये चार मुद्दे कर सकते हैं परिणाम को प्रभावित

बीजेपी की मांग
बीजेपी ने भी कोंकण क्षेत्र के रत्‍नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों में एक-एक सीट की मांग की है।इन दोनों जिलों में बीजेपी का एक भी विधायक नहीं है। इसके अलावा मुंबई की दो सीटें और मराठवाड़ा के उस्‍मानाबाद जिले की एक सीट दोनों पार्टियों में मतभेद का मुद्दा है। दोनों पार्टियों की ओर से कोशिश की जा रही है कि 26 सितंबर को गृहमंत्री अमित शाह के दौरे से पहले इन मुद्दो को सुलझा लिया जाए।

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा था कि सीट बंटवारे को लेकर हुए समझौते की आधिकारिक घोषणा की जल्द कर दी जाएगी। बता दें कि महाराष्ट्र में 288 सीटों पर 21 अक्टूबर को चुनाव होना है जबकि 24 अक्टूबर को परिणाम की घोषणा होगी।

 


  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.