Wednesday, Apr 14, 2021
-->
shujaat-bukhari-killers-will-be-harshly-punished-says-hansraj-ahir

शुजात बुखारी के हत्यारे किसी भी सूरत में नहीं बचेंगे : हंसराज अहीर

  • Updated on 6/15/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने आज साफ कहा है कि वरिष्ठ पत्रकार और राइजिंग कश्मीर अखबार के संपादक शुजात बुखारी के हत्यारे किसी भी सूरत में कानून से बच नहीं पाएंगे। बुखारी की हत्या की आलोचना करते हुए मंत्री ने कहा कि क्राइम में संलिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

व्हाट्स एप पर नोटिस भेजने को बॉम्बे हाई कोर्ट ने दी मंजूरी

अहीर ने कोलकाता में संवाददाताओं से कहा, 'यह  बेहद दुखद घटना है। जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। अब आरोपियों का बचना असंभव है। अपराधियों के खिलाफ हम कड़ी कार्रवाई करेंगे। किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा।'

मोदी सरकार की सीधी भर्ती योजना में भी उदित राज ने की आरक्षण की मांग

मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के पूर्वी क्षेत्र की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने के लिए अहीर महानगर आए हुए हैं। बैठक में पश्चिम बंगाल , बिहार , ओडिशा और झारखंड के पुलिस अधिकारियों के साथ ही CRPF, SSB, ED, मादक नियंत्रण जैसी अन्य एजेंसियां भी भाग लेंगी। 

क्या कमजोर दृष्टि वाले कर सकते हैं MBBS? SC का मोदी सरकार को नोटिस

वरिष्ठ पत्रकार और राइजिंग कश्मीर अखबार के संपादक शुजात बुखारी और उनके निजी सुरक्षा अधिकारियों को अज्ञात बंदूकधारियों ने कल श्रीनगर में अखबार के कार्यालय के बाहर उनकी हत्या कर दी थी। इसको लेकर प्रदेश की ही नहीं, देश की सियासत गर्म हो गई है। 

US से लौटने के बाद पर्रिकर ने संभाला कामकाज, भगवान का किया शुक्रिया

शुजात की हत्या से एक अध्याय बंद : एन राम 

हिंदू समाचार पत्र समूह के अध्यक्ष एन राम ने आज कहा कि शुजात बुखारी की हत्या के साथ ही जम्मू कश्मीर में एक अध्याय समाप्त हो गया है। बुखारी को याद करते हुए राम ने उन्हें ऐसा साहसी पत्रकार बताया जो जम्मू कश्मीर में खतरों और बाधाओं से निपटने के तरीके जानते थे। बुखारी ने 1997 से 2012 के बीच हिंदू अखबार के लिए भी काम किया था। 

माकन के बाद शीला दीक्षित भी AAP पर हमलावर, बोलीं- केजरीवाल पढ़ें संविधान

राम ने कहा, 'वह सरकार के आदमी नहीं थे। वह किसी प्रतिष्ठान के आदमी नहीं थे। न ही चरमपंथी तत्वों के साथ उनकी सहानुभूति थी ... ।' उन्होंने कहा कि यह घटना हैरान करने वाली है। इसकी वजह है कि जम्मू कश्मीर में पत्रकारों की हत्या नहीं होगी।  राम ने कहा कि उन्हें उनके उदार विचारों और न्याय के लिए उनके प्रयासों को लेकर निशाना बनाया गया। 

भय्यूजी महाराज के वित्तीय उत्तराधिकार पर फैमिली और ट्रस्ट भी हैरान-परेशान

बुखारी को पैतृक गांव में दफनाया 

अंग्रेजी अखबार ‘राइजिंग कश्मीर’ के प्रधान संपादक शुजात बुखारी को उनके पैतृक गांव में आज सुपुर्द ए खाक किया गया। भारी बारिश के बीच उनके जनाजे में हजारों लोगों ने हिस्सा लिया, जिसमें उनके दोस्त और कद्रदान भी शामिल थे। अखबार के कार्यालय के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने कल गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी।  

राहुल गांधी ने डॉक्टर कफील से जताई हमदर्दी, योगी सरकार पर साधा निशाना

जिस समय वरिष्ठ एवं अनुभवी पत्रकार को सुपुर्द ए खाक करने की तैयारी चल रही थी, उस समय पाठकों को हाथ में राइजिंग कश्मीर का ताजा अंक था। अखबार के पहले पूरे पन्ने पर काले रंग की पृष्ठभूमि में प्रधान संपादक शुजात की श्याम श्वेत तस्वीर छपी थी।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.