Wednesday, Dec 01, 2021
-->
side-effects-of-black-fungus-injection-at-lnjp-hospital-delhi-kmbsnt

दिल्ली के LNJP अस्पताल में ब्लैक फंगस के इंजेक्शन से मरीजों में साइड इफेक्ट

  • Updated on 6/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजों में एम्फोटेरिसिन-बी इमल्शन इंजेक्शन के साइड इफेक्ट का मामला सामने आया है। अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर का कहना है कि अस्पताल में ब्लैक फंगस के भर्ती मरीजों को एम्फोटेरिसिन-बी इमल्शन इंजेक्शन जैसे ही शनिवार को दिया गया वैसे ही सभी मरीजों में साइड इफेक्ट्स देखने को मिलने लगे।

किसी मरीज के अंदर तेज बुखार तो किसी में जी मिचलाना, सांस फूलनास ठंड लगना आदि साइड इफेक्ट्स देखे गए। वहीं मरीजों को अब साइड इफेक्ट के हिसाब से दवा दी जा रही है। अभी तक इससे पहले मरीजों को जो इंजेक्शन दिया जा रहा था उनमें से किसी भी मरीज में ऐसे साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिले थे।

फिर से केंद्र और दिल्ली सरकार में ठनी, केजरीवाल के महात्वाकांक्षी राशन योजना पर लगी रोक

20 से 25 मरीजों को शनिवार दिया गया था इंजेक्शन
अस्पताल में 20 से 25 मरीजों को शनिवार को यहां इंजेक्शन दिया गया और सभी मैं इसके साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं। वहीं अस्पताल में 75 ब्लैक फंगस के मरीज भर्ती हैं। एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती 56 साल की ब्लैक फंगस की मरीज नर्मदा के परिजनों का कहना है कि 18 दिन से मरीज का इलाज अस्पताल में चल रहा है। प्रतिदिन इंजेक्शन की डोज लग रही है। लेकिन अभी साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिला था।

पर्यावरण दिवस पर गोपाल राय का बड़ा ऐलान- 26 जून से 11 जुलाई तक वन महोत्सव मनाया जाएगा

अस्पताल प्रशासन ने इस इंजेक्शन को देने से लागई रोक 
वहीं अस्पताल प्रशासन ने इस इंजेक्शन को देने से अभी रोक लगा दी है। अब जो मरीजों अस्पताल में है उसमें से इंजेक्शन नहीं दिए जा रहे हैं। एक तीमरदार का कहना है कि उसके मरीज के साथ और भी मरीज भर्ती हैं जिनमें से 5 लोगों को इंजेक्शन दिया गया है और पांचों मरीज में साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं। किसी को तेज बुखार है तो किसी को लूज मोशन की शिकायत हुई। सभी मरीजों में अलग-अलग परेशानी हो रही है।

अस्पताल प्रशासन का कहना है कि एक मरीज को दवा से हल्की एलर्जी होने के मामले को लेकर पुष्टि की है और उनका कहना है कि उस मरीज को निगरानी में रखा गया है।अस्पताल का कहना है कि कोई गलत दवा नहीं दी गई है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.