Wednesday, Sep 18, 2019
sitaram yechury cpim attacks bjp modi govt amit shah over kashmir and kerala floods

सीताराम येचुरी ने कश्मीर और केरल बाढ़ पर अमित शाह पर साधा निशाना

  • Updated on 8/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने सोमवार को आरोप लगाया कि कश्मीर के लोगों को उनके ही घरों में कैद किया गया है। साथ ही उन्होंने सरकार को आगाह किया कि जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलाव का असर विशेष दर्जा प्राप्त अन्य राज्यों में महसूस किया जाएगा। येचुरी ने लोगों को ईद उल अकाहा के अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि उन्हें अब तक कश्मीर में अपने सहयोगियों की स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

ममता बनर्जी ने बेरोजगारी पर मोदी सरकार को घेरा, युवाओं से की अपील

गौरतलब है कि येचुरी और भाकपा महासचिव को शुक्रवार को श्रीनगर जाने की इजाजत नहीं दी गई थी।    येचुरी ने ट््वीट किया, ‘‘ईद खुशी और जश्न का पर्व है और हम कश्मीर की जनता के साथ हैं जिन्हें उनके ही घरों में कैद किया गया है। हम अब भी नहीं जानते कि कश्मीर में हमारे कॉमरेड कहां और कैसे हैं।’’ 

अनुच्छेद 370: J&K में ‘कठोर उपायों’ के खिलाफ याचिका पर सुनवाई करेगा SC

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा देश भाषाओं, धर्मों, संस्कृतियों और विचारों की विविधताओं वाला देश है और यही हमारी ताकत है। अलोकतांत्रिक तरीके से और बलपूर्वक जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलाव का असर विशेष दर्जे वाले अन्य राज्यों में महसूस किया जाएगा। हमें भूलना नहीं चाहिए कि ऐसे अधिकतर राज्य भारत की सीमा पर स्थित हैं।’’

शाह ने जानबूझकर बाढ़ प्रभावित केरल को छोड़ा : माकपा 
माकपा पोलितब्यूरो ने सोमवार को दावा किया कि गृह मंत्री अमित शाह ने जानबूझकर बाढ़ प्रभावित केरल का हवाई सर्वेक्षण नहीं किया और इसके बजाय महाराष्ट्र तथा कर्नाटक जैसे भाजपा शासित राज्यों को चुना। पार्टी ने एक बयान में देश के अनेक हिस्सों में बाढ़ के कारण जान-माल के नुकसान और मवेशियों के मारे जाने पर चिंता जताई। 

कश्मीर में तनाव के बीच पर्यटन से जुड़े कारोबारियों को सता रही है फ्यूचर की चिंता

माकपा ने आरोप लगाया, ‘‘गृह मंत्री ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हवाई सर्वेक्षण में केवल भाजपा शासित राज्यों महाराष्ट्र और कर्नाटक को चुना। इससे साफ होता है कि उन्होंने बुरी तरह प्रभावित केरल का सर्वेक्षण जानबूझकर नहीं किया।’’ 

उन्नाव बलात्कार पीड़िता के पिता की हत्या मामले में वकील ने लगाया CBI पर आरोप

पार्टी ने कहा, ‘‘संघ - भाजपा से जुड़े कुछ तत्व सोशल मीडिया पर प्रचार कर रहे हैं और लोगों से केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में चंदा नहीं देने को कह रहे हैं। प्राकृतिक आपदाओं और लोगों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत के समय कम से कम राजनीतिक भेदभाव नहीं होना चाहिए।’’ केरल राज्य बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है जिसमें अब तक 76 लोग मारे जा चुके हैं और करीब 58 लापता है। सुबह 11 बजे जारी ताजा सूचना के अनुसार राज्य में 1654 राहत केंद्रों में 2,87,585 लोगों ने शरण ली है।

कश्मीरी महिला पर कटाक्ष: दिल्ली महिला आयोग ने खट्टर, गोयल को लिया आड़े हाथ

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.