Thursday, Aug 16, 2018

सितारगंज के जेल अधीक्षक समेत तीन पर बलात्कार का मुकदमा

  • Updated on 8/9/2018

सितारगंज/ब्यूरो। न्यायिक मजिस्ट्रेट खटीमा के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने सम्पूर्णानंद जेल के अधीक्षक समेत तीन लोगों पर महिला से दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया है। महिला की शिकायत पर बीते दिनों कोर्ट ने पुलिस को जेल अधीक्षक टीडी जोशी, जेलर और एक अन्य कर्मचारी पर दुष्कर्म का केस दर्ज करने के आदेश दिए थे।

महिला ने लिखित शिकायत में बताया कि वर्ष 2003 में उसका भाई हल्द्वानी जेल में बंद में था। वर्तमान जेल अधीक्षक टीडी जोशी तब हल्द्वानी में डिप्टी जेलर थे। जोशी ने उससे छेड़छाड़ की तो विरोध करने पर उसने उत्पीड़नात्मक रवैया अपना लिया। उन्होंने घर बुलाकर उससे दुष्कर्म भी किया था। महिला के अनुसार वह राजस्व विभाग की जमीन पर खेतीबाड़ी कर रही थी। जेल में भी एक संस्था के जरिए काम कर रही थी। इसके बाद जोशी सम्पूर्णानन्द जेल के अधीक्षक पद पर तैनात हो गये।

पाकिस्तान से आए सिख तीर्थयात्री ऋषिकेश से लौटे, जाना चाहते थे हेमकुंड लेकिन नहीं था वीजा

महिला का आरोप है कि अक्टूबर 2016 में अधीक्षक ने उसे कार्यालय बुलाकर उससे छेड़छाड़ की। 26 जनवरी 2017 को अधीक्षक, जेलर और एक अन्य ने उसके घर आकर दुराचार किया। महिला के अनुसार तीन मई 2018 की रात उन्होंने दोबारा उससे दुष्कर्म किया। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर अधीक्षक टीडी जोशी, जेलर जयंत पांगती और राकेश के खिलाफ मुकदमा दायर किया है।

क्लीपिंग हुई वायरल

टीडी जोशी पर मुकदमा दर्ज होने के बाद कथित तौर पर एक क्लीपिंग वायरल हो गई, जिसमें जेल अधीक्षक और एक महिला के अापत्तिजनक स्थिति में होने की बात कही जा रही हैं। क्लीपिंग वायरल किसने की इसकी जानकारी किसी को नहीं है। दूसरी ओर सम्पूर्णानन्द शिविर सितारगंज के जेल अधीक्षक टीडी जोशी का कहना है कि सारे आरोप उन्हें बदनाम और ब्लैक मेल करने के लिए लगाए गए हैं।

बर्खास्त होंगे जेल अधीक्षक : आईजी जेल

आईजी जेल पीवीके प्रसाद का कहना है कि वायरल क्लीपिंग में यदि जेल अधीक्षक सही में पाये गये तो जिलाधिकारी और एसएसपी से रिपोर्ट मंगवाकर उन्हें बर्खास्त किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.