Sunday, Dec 04, 2022
-->
sitharaman asks private sector to clear dues of small businesses in 45 days

सीतारमण ने निजी क्षेत्र को छोटे व्यवसायों का बकाया 45 दिन में चुकाने को कहा

  • Updated on 9/16/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने निजी क्षेत्र से सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) का बकाया 45 दिन के भीतर चुकाने को कहा है। सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र, राज्य सरकारों और सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों का भी एमएसएमई क्षेत्र पर बकाया है। उन्होंने कहा कि निजी क्षेत्र का भी ऐसे छोटे व्यवसायों का बकाया है जहां से वह सामान और सेवाएं लेता है।  

‘भारत जोड़ो यात्रा’ भाजपा की विभाजनकारी राजनीति के खिलाफ है : कांग्रेस 

    वित्त मंत्री ने कहा कि दो दिन पहले उनकी बड़े व्यवसायियों से मुलाकात हुई थी जिनसे उन्होंने यह सुनिश्चित करने की अपील की कि अर्थव्यवस्था की रीढ़ कहे जाने वाले छोटे व्यवसायों का बकाया समय पर चुकाया जाए। 

अगले 5-7 साल में एक लाख करोड़ रुपये पर पहुंच जाएगा पतंजलि समूह का कारोबार : बाबा रामदेव

  •  

लघु उद्योग भारती के एक कार्यक्रम में सीतारमण ने कहा, ‘‘निजी क्षेत्र और उद्योग को 45 दिन के भीतर भुगतान का संकल्प लेना चाहिए और कंपनी रजिस्ट्रार में खाता पुस्तिका दाखिल करना चाहिए जिससे कि वह बकाया का उल्लेख कर सके। निजी क्षेत्र को भी आगे आना चाहिए।’’

जांच एजेंसियों का इस्तेमाल जबरन वसूली के लिए किया जा रहा है : केजरीवाल

      सीतारमण कहा कि केंद्र सरकार भी इस मुद्दे का समाधान निकालने के लिए कदम उठाएगी और यह सुनिश्चित करेगी कि उसके विभाग और सार्वजनिक उद्यम छोटे व्यवसायों को 90 दिन के भीतर भुगतान करें। उन्होंने राज्य सरकारों से भी समय पर बकाया चुकाने की अपील की।   

 

 

 

comments

.
.
.
.
.