Wednesday, Jan 26, 2022
-->
six eclipse will be seen this year tomorrow will the lunar eclipse 2020

इस साल दिखेंगे ग्रहण के छह गजब नजारे, आज उपच्छाया चंद्रग्रहण से होगी शुरूआत

  • Updated on 1/10/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा की चाल इस साल दुनिया भर के खगोल प्रेमियों को दो सूर्यग्रहणों (Solar eclipse) और चार चंद्रग्रहणों (Lunar eclipse) समेत ग्रहण के छह रोमांचक दृश्य दिखायेगी। हालांकि, भारत में इनमें से केवल तीन खगोलीय घटनाओं के नजर आने की उम्मीद है।

उज्जैन की प्रतिष्ठित शासकीय जीवाजी वेधशाला के अधीक्षक डॉ. राजेंद्रप्रकाश गुप्त ने गुरुवार को बताया कि इस वर्ष ग्रहणों की खगोलीय घटनाओं का सिलसिला शुक्रवार और शनिवार की दरम्यानी रात लगने वाले उपच्छाया चंद्रग्रहण से शुरू होगा।

साल के आखिरी महीने में लगा सूर्य ग्रहण, जानें किन बातों का रखें ख्याल

पृथ्वी की परिक्रमा कर रहा चंद्रमा पेनुम्ब्रा से होकर गुजरता है
उन्होंने बताया कि नववर्ष का यह पहला ग्रहण भारत में दिखायी देगा। भारतीय समय के अनुसार इसकी शुरूआत शुक्रवार रात 10:36:00 बजे होगी और यह रात 02:44:04 बजे खत्म होगा। उपच्छाया चंद्रग्रहण उस समय लगता है, जब पृथ्वी की परिक्रमा कर रहा चंद्रमा पेनुम्ब्रा (धरती की परछाई का हल्का भाग) से होकर गुजरता है।

साल का आखिरी सूर्यग्रहणः PM मोदी सहित लाखों लोगों ने देखा अद्भुत नजारा

सूर्य की रोशनी आंशिक तौर पर कटी प्रतीत होती है
इस समय चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की रोशनी आंशिक तौर पर कटी प्रतीत होती है और ग्रहण को चंद्रमा पर पडऩे वाली धुंधली परछाई के रूप में देखा जा सकता है। गुप्त ने भारतीय सन्दर्भ में की गयी कालगणना के हवाले से बताया कि इस साल पांच और छह जून की दरम्यानी रात दूसरा उपच्छाया चंद्रग्रहण लगेगा।

2020 का पहला चंद्रग्रहणः जाने तारीख, समय और पौराणिक- वैज्ञाणिक कारण

30 नवंबर को सिलसिलेवार तौर पर दो उपच्छाया चंद्रग्रहण लगेंगे
यह ग्रहण भी भारत में दिखायी देगा। तकरीबन दो सदी पुरानी वेधशाला के अधीक्षक ने बताया कि 21 जून को लगने वाले वलयाकार सूर्यग्रहण को भी भारत में देखा जा सकेगा।

इसके बाद पांच जुलाई और 30 नवंबर को सिलसिलेवार तौर पर दो उपच्छाया चंद्रग्रहण लगेंगे। हालांकि, दोनों ग्रहण भारत में नहीं देखे जा सकेंगे, क्योंकि दोनों खगोलीय घटनाएं जब होंगी उस वक्त भारत में दिन होगा।

जानिए, अपनी राशि के जरिए, कैसा रहेगा आपका नया साल 2020?

साल का छठा और आखिरी ग्रहण पूर्ण सूर्यग्रहण के रूप में 14 दिसंबर को
गुप्त ने बताया कि साल का छठा और आखिरी ग्रहण पूर्ण सूर्यग्रहण के रूप में 14 दिसंबर को लगेगा। यह ग्रहण भी भारत में नहीं दिखेगा क्योंकि उस वक्त देश में रात होगी। वर्ष 2019 में दुनिया के अलग-अलग इलाकों में तीन सूर्यग्रहण और दो चंद्रग्रहण नजर आये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.