Tuesday, Jan 18, 2022
-->
sixth-death-in-aiims-rishikesh-from-corona-musrnt

कोरोना से एम्स ऋषिकेश में छठी मौत, मचा हड़कंप

  • Updated on 6/10/2020

ऋशिकेश/ब्यूरो। देवभूमि उत्तराखंड में कोरोना अपने पैर जमा चुका है। जहां कोरोना संक्रमित आंकड़ों में इजाफा हो रहा है। वहीं अकेले एम्स में छह कोरोना पाॅजिटिव मरीजों की मौत हो गई है। बुधवार को गाजियाबाद निवासी कोविड 19 के एक मरीज की मौत हो गई। हालांकि सभी मौतों में एम्स प्रशासन मृतकों को पूर्व से ग्रसित बीमारी का होना बताता आ रहा है। लेकिन इस बात को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता है कि सभी अन्य बीमारियों से ग्रसित मृतक कोरोना संक्रमित भी रहे हैं।

एक ओर जहां सरकार कारोना से लड़ने की बात पूरी मुस्तैदी से कह रही है। वहीं देवभूमि में कोराना का ग्राफ 1500 तक पहुंच गया है। कोरोना ग्राफ में अचानक से आया यह उछाल पिछले एक माह के भीतर के हैं। इनमें संक्रमिक 14 लोगों की मौत भी हो चुकी है। जिसमें अकेले एम्स में भर्ती कोविड 19 मरीज शामिल हैं।

एम्स में सबसे पहली मौत हल्द्वानी की महिला की हुई थी जो ब्रेन के इलाज के लिए एम्स में भर्ती थी। इसके बाद बिजनौर निवासी एक महिला जो कैंसर से जूझ रही थी कोराना पाॅजिटिव होने के बाद कुछ ही समय में उसकी भी मौत हो गई। इसके अलावा ऋषिकेश श्यामपुर निवासी एक युवक की भी काल के ग्रास में समा गया।

कुछ ही दिन बाद मुज्जफरनगर निवासी दंपति की भी कोरोना पाॅजिटिव रिपोर्ट आई थी जिनकी भी मौत हो गई। कोविड 19 समन्वय अधिकारी अपूर्वा ने बताया कि बुधवार की सुबह गाजियाबाद निवासी एक की मौत हो गई जो अन्य बीमारी के उपचार के लिए एम्स में भर्ती था लेकिन कोरोना पाॅजिटिव पाया गया।

एम्स में लगातार कोविड 19 से मृत्यु की दर बढ़ने से प्रशासन भी सकते में आया गया है। जबकि एम्स में जून माह के अंत तक जनरल ओपीडी को भी सुचारू करने का दावा किया जा रहा है। देखना यह है कि कोराना मरीजों और जनरल रोगियों के लिए एम्स प्रशासन किस तरह की कवायद शुरू करेगा। जबकि कोविड19 के मरीजों और उनकी मृत्यु की दर लगातार बढ़ रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.