Tuesday, Nov 30, 2021
-->
smog-coating-in-many-areas-of-delhi-sohsnt

Air Pollution: दिल्ली में जारी है प्रदूषण का कहर, कई इलाकों में छाई रही स्मॉग की परत

  • Updated on 12/7/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में एक तरफ जहां कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की तीसरी लहर अपने चरम पर हैं वहीं बढ़ते प्रदूषण के कारण लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है। दिल्ली के धौला कुआं और मुकर्बा चौक इलाके में सुबह से ही कोहरे की मोटी परत छाई रही। इसके अलावा नई दिल्ली के सरदार पटेल मार्ग पर भी कोहरे की घनी परत छाई रही।

दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘अत्यंत खराब’, सुधार की उम्मीद

रविवार को ‘अत्यंत खराब’ श्रेणी में रही वायु गुणवत्ता

दरअसल, दिल्ली (Delhi) की वायु गुणवत्ता बीते रविवार को ‘अत्यंत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई, लेकिन इसमें वायु की गति बढ़ने के पूर्वानुमान के कारण आगामी दो दिन में सुधार होने की उम्मीद है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों ने बताया कि हवा की गति धीमी होने की वजह से ‘स्थानीय जनित प्रदूषक तत्वों’ का जमाव होने के कारण वायु गुणवत्ता शनिवार को ‘गंभीर’ हो गई थी। शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) सुबह नौ बजे 394 रहा, जबकि शनिवार को औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 404 दर्ज किया गया।     

दिल्ली में जारी है प्रदूषण का कहर, कई इलाकों में छाई रही स्मॉग की परत

ये है वायु गुणवत्ता की पिछली स्थिति
एक्यूआई शुक्रवार को 382, बृहस्पतिवार को 341, बुधवार को 373, मंगलवार को 367, सोमवार को 318 और रविवार को 268 था। पड़ोसी शहरों गाजियाबाद में वायु गुणवत्ता सूचकांक 430, ग्रेटर नोएडा में 404 और नोएडा में 404 दर्ज किया गया जो कि ‘गंभीर’ श्रेणी में आता है।  एक्यूआई शून्य से 50 के बीच ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘सामान्य’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘अत्यंत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। आईएमडी के पर्यावरण अनुसंधान केंद्र के प्रमुख वी के सोनी ने बताया कि हवा की गति धीमी बनी हुई है, जो स्थानीय जनित प्रदूषक तत्वों के जमने में मददगार है।  

अब नहीं जल रही पराली, फिर भी दिल्ली में प्रदूषण क्यों? केंद्र का केजरीवाल सरकार को नोटिस   

प्रदूषक तत्वों का दूसरा स्तर बना
उन्होंने कहा कि पूर्व दिशा से आ रही हवाओं में नमी है जिससे प्रदूषक तत्वों का दूसरा स्तर भी बन रहा है। इन सभी कारकों की वजह से वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गई। हालांकि सोनी ने कहा कि हवा के रफ्तार पकडने की वजह से सोमवार तक वायु गुणवत्ता में सुधार होकर यह ‘खराब’ श्रेणी में पहुंच सकती है। आईएमडी ने बताया कि रविवार को अधिकतम आठ किलोमीटर प्रति घंटे और सोमवार को 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली में शनिवार को न्यूनतम तापमान 11.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और रविवार को अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।  

ये भी पढ़ें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.