Monday, Nov 30, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 30

Last Updated: Mon Nov 30 2020 08:39 AM

corona virus

Total Cases

9,432,075

Recovered

8,846,313

Deaths

137,177

  • INDIA9,432,075
  • MAHARASTRA1,820,059
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA882,608
  • TAMIL NADU779,046
  • KERALA599,601
  • NEW DELHI566,648
  • UTTAR PRADESH541,873
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA317,789
  • TELANGANA268,418
  • RAJASTHAN262,805
  • CHHATTISGARH234,725
  • BIHAR234,553
  • HARYANA230,713
  • ASSAM212,483
  • GUJARAT206,714
  • MADHYA PRADESH203,231
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB150,805
  • JAMMU & KASHMIR109,383
  • JHARKHAND104,940
  • UTTARAKHAND73,951
  • GOA45,389
  • HIMACHAL PRADESH38,977
  • PUDUCHERRY36,000
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,967
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,806
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,325
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
smriti irani attacks rajasthan government on the death of children in kota

कोटा: बच्चों की मौत पर बोलीं स्मृति ईरानी- राजस्थान सरकार ने क्यों नहीं बरती सावधानी

  • Updated on 1/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) अस्पताल में बीते दिसंबर महीने से हो रही बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है। अब तक मरने वाले बच्चों की संख्या 106 से पार पहुंच गई है। इस बीच राजस्थान सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने कहा कि पिछले साल 900 से अधिक मौत होने के बाद भी सरकार नहीं चेती।

कोटा में बच्चों की मौत पर मायावती ने कांग्रेस को लिया आड़े हाथ, बताया असंवेदनशील पार्टी

ईरानी का गहलोत सरकार पर हमला
महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि यह मामला स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़ा हुआ है और राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग इसकी रिपोर्ट मंत्रालय को सौंपेगा। उन्होंने कहा कि इस मामले में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की टिपण्णी से वह आहत हैं।

राजस्थान सरकार ने नहीं बरती सावधानी
ईरानी ने कहा, "वर्तमान में राजस्थान के मुख्यमंत्री की ओर से जिस तरह के वाक्य मैं सुन रही हूं, उससे एक मां और भारतीय होने के कारण दुखी हूं। राजस्थान सरकार ने इतनी मौतों के बावजूद कोई कार्रवाई इसलिए नहीं की क्योंकि मरने वाले बच्चे गरीब थे।" राज्य के अधिकारियों द्वारा बताए गए आंकड़ों के अनुसार जे के लोन सरकारी अस्पताल में वर्ष 2019 में 963 बच्चों की मौत हुई थी, जबकि इसके पिछले वर्ष में यह आंकड़ा 1000 से ऊपर पहुंच गया था।

कोटा में सैकड़ों बच्चों की मौत के बाद राजस्थान के एक और अस्पताल में 10 शिशुओं ने तोड़ा दम

संवेदनशील है सरकार, ना करें राजनीति- CM गहलोत
कोटा स्थित एक चिकित्सालय में नवजात शिशुओं की मौत को लेकर विपक्ष द्वारा सरकार पर निशाना साधे जाने के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि सरकार बीमार शिशुओं की मौत पर पूरी तरह संवेदनशील है ओर इस मामले में राजनीति नहीं होनी चाहिए। कोटा के इस अस्पताल में शिशुओं की मृत्यु दर लगातार कम हो रही है। हम आगे इसे और भी कम करने के लिए प्रयास करेंगे। मां और बच्चे स्वस्थ रहें, यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

कोटा में 100 बच्चों की मौत पर लोकसभा स्पीकर ने लिया कांग्रेस सरकार को आड़े हाथ

पिछले 6 सालों में हजारों बच्चों ने तोड़ा दम
बता दें इस अस्पताल में बच्चों की मौत की खबरें हर साल आती है। अस्पताल प्रशासन ने बताया कि दिसंबर 2018 में इसी अस्पताल में 77 बच्चों की मौत हो गई थी। वर्ष 2019 में अब तक इस अस्पताल में कुल 963 बच्चों की मौत की खबरें सामने आयी है। जबकि 2018 में 1005, 2017 में 1027, 2016 में 1193, 2015 में 1260 और 2014 में 1198 बच्चों ने दम तोड़ा। उधर, बच्चों की मौत से जागी राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने मंगलवार को मेडिकल कॉलेज (Medical College) से जुड़े अस्पतालों में सभी मेडिकल उपकरणों के फंक्शनल स्टेटस की जांच का आदेश दिया।

comments

.
.
.
.
.