Saturday, Apr 17, 2021
-->
some-people-are-spreading-rumors-about-corona-vaccine-strict-action-will-be-taken-prshnt

कोरोना वैक्सीन को लेकर कुछ लोग फैला रहे अफवाह, सरकार ने चेताया, होगी सख्त कार्रवाई

  • Updated on 1/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर के कोने-कोने में कोरोना (Coronavirus) को मात देने के लिए वैक्सीन (Corona vaccine) पहुंचाया गया है, 16 जनवरी से टीकाकरण भी शुरू होने जा रहा है। लेकिन ऐसे में कुछ लोग वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने में लगे। सरकार ने कहा कहा कि वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने वालों की खैर नहीं है। ऐसे अराजकतत्वों पर कानूनी कार्रवाई होगी। अफवाह फैलाने वालों की पहचान के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारी कर ली है। हेल्थ वर्कर और टीकाकरण सेंटर के नोडल अधिकारियों को अफवाह फैलाने वालों की पहचान की जिम्मेदारी दी गई है।

शरद पवार की शरण में अभिनेता सोनू सूद, बीएमसी ने अपनाया कड़ा रुख

पहले चरण के तहत हेल्थ वर्कर को लगेगा टीका
टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी से होगा, लखनऊ में 16 जनवरी से टीकाकरण होना है। पहले चरण के तहत हेल्थ वर्कर को टीकाकरण लगाया जाएगा। इन अफवाहों की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अलग से तैयारी कर ली है। टीकाकरण सेंटर के नोडल प्रभारियों पर भ्रम फैलाने वालों पर शिकंजा कसने का जिम्मा सौंपा गया है। लोगों की शंका और समाधान करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

अफवाह फैलाने वालों की पहचान करने के लिए आशा, एएनएम, हेल्थ वर्कर और सभी टीकाकरण सेंटर को अलर्ट कर दिया गया है। वैक्सीन को लेकर किसी के मन में भ्रम की स्थिति नहीं होनी चाहिए। 

नेटफ्लिक्स सीरीज ‘बैड ब्वॉय बिलेनयरीज’ मामले में कोर्ट की चोकसी की याचिका पर टिप्पणी

कोवैक्सीन के 20 हजार डोज पहुंचे दिल्ली
कोरोना रोधी स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन की पहली खेप बुधवार को राजधानी दिल्ली पहुंचाई गई। जानकारी के मुताबिक कोवैक्सीन की 20 हजार डोज को राजीव गांधी सुपर स्पेशिलिटी (आरजीएसएच) अस्पताल भेज दिया गया है। इसके साथ ही अब दिल्ली में कोरोनारोधी वैक्सीनों की तादाद करीब 3 लाख हो चुकी है। दिल्ली पुलिस की मदद से एयरपोर्ट से अस्पताल तक ग्रीन कॉरिडोर बनाकर वैक्सीन को सुरक्षित पहुंचाया गया।

दुष्कर्म मामले में फंसे उत्तराखंड के भाजपा विधायक नेगी को कोर्ट से मिली फौरी राहत 

कोवैक्सीन की 20000 डोज पहुंची दिल्ली
अस्पताल की प्रवक्ता डॉ. छवि गुप्ता के मुताबिक बुधवार दोपहर करीब सवा 12  बजे भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सिन की पहली खेप दिल्ली पहुंची। पहली खेप में 4 बॉक्स आए हैं। एक बॉक्स में 5000 डोज हैं। कुलमिलकार कोवैक्सीन की 20000 डोज आ गई है। इन्हें 2 से 8 डिग्री तापमान पर स्टोर किया जा रहा है। स्टोर की सुरक्षा के लिए 25 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है। 

कोवैक्सीन को आपातकालीन विक्ल्प के तौर पर रखा गया है। कायदे से इस वैक्सीन का इस्तेमाल मई तक ही किया जा सकेगा। 

विशेष विवाह अधिनियम में नोटिस का अनिवार्य प्रकाशन निजता के अधिकार का उल्लंघन : अदालत 

कोविशील्ड वैक्सीन को एक महीने पहले ही किया गया तैयार
6 महीने तक उपयोग की जा सकती है वैक्सीन: सूत्र बताते हैं कि स्टोर किया गया स्वदेशी कोवैक्सीन पर मैन्यूफै क्चरिंग डेट दिसंबर 2020 की है। यह छह महीने के बाद एक्सपायर होगा। उम्मीद की जा रही है कि इस वैक्सीन का इस्तेमाल मई तक कर लिया जाएगा, जबकि सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड वैक्सीन को एक महीने पहले ही तैयार कर ली गई थी। निर्माण तिथि के अनुसार कोविशील्ड का इस्तेमाल अप्रैल तक ही किया जा सकता है। 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.