Saturday, Jun 06, 2020

Live Updates: Unlock- Day 6

Last Updated: Sat Jun 06 2020 07:55 PM

corona virus

Total Cases

246,544

Recovered

118,684

Deaths

6,936

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA80,229
  • TAMIL NADU28,694
  • NEW DELHI26,334
  • GUJARAT19,119
  • RAJASTHAN10,084
  • UTTAR PRADESH9,733
  • MADHYA PRADESH8,996
  • WEST BENGAL7,303
  • KARNATAKA4,835
  • BIHAR4,598
  • ANDHRA PRADESH4,112
  • HARYANA3,281
  • TELANGANA3,147
  • JAMMU & KASHMIR3,142
  • ODISHA2,608
  • PUNJAB2,415
  • ASSAM2,116
  • KERALA1,589
  • UTTARAKHAND1,153
  • JHARKHAND889
  • CHHATTISGARH773
  • TRIPURA646
  • HIMACHAL PRADESH383
  • CHANDIGARH304
  • GOA166
  • MANIPUR124
  • NAGALAND94
  • PUDUCHERRY90
  • ARUNACHAL PRADESH42
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS33
  • MEGHALAYA33
  • MIZORAM22
  • DADRA AND NAGAR HAVELI14
  • DAMAN AND DIU2
  • SIKKIM2
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
sonia gandhi said in opposition meeting 20 lakh crore package is cruel joke by bjp govt rkdsnt

विपक्ष की बैठक में सोनिया गांधी बोलीं- क्रूर मजाक है 20 लाख करोड़ का पैकेज

  • Updated on 5/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना संकट को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को चेताने के लिए विपक्षी दलों की अहम बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। सभी ने एकजुटता दिखाते हुए अम्फान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने का प्रस्ताव पारित किया। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में विपक्षी दलों की बैठक में केंद्र सरकार को जमकर आड़े हाथ लिया गया और उसकी नीतियों पर भी सवाल उठाए गए। 

फडणवीस समेत भाजपा नेताओं ने ठाकरे सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, उठाए सवाल

इस मौके पर सोनिया गांधी ने कहा कि केंद्र की 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज क्रूर मजाक है और सरकार के पास लॉकडाउन से निकलने का कोई रास्ता नहीं है। उन्होंने कहा कि पैकेज के नाम पर सरकार ने ना सिर्फ सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को बेचने का इंतजाम कर दिया, वहीं श्रम कानूनों की भी धज्जियां उड़ा दीं।

विपक्ष की बैठक में राहुल गांधी बोले- आर्थिक तबाही आएगी अगर मोदी सरकार ने....

केंद्र की भाजपा सरकार ने रिफॉर्म के नाम पर लोन का मेला तो लगाया ही, साथ ही निजीकरण को रफ्तार दे दी। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की हालात तो नोटबंदी, जल्दबाजी में जीएसटी लागू करने के दौरान ही खराब हो गई था। कोरोना संक्रमण के पहले मामले दौरान भी अर्थव्यवस्था बुरी हालत में था।

गुजरात वेंटिलेटर मामले को लेकर कांग्रेस ने भाजपा सरकार की मंशा पर उठाए सवाल

बता दें कि कल वामदल के नेता सीताराम येचुरी ने कहा था कि हम सरकार से 10 मांगों पर गौर करेंगे। हमारी सरकार से अपील होगी कि वह लोगों को हित में जरुरी कदम उठाए और उनकी जरुरतों को पूरा करने में सहयोग दे। सरकार से हमारी कुछ मांगें होंगी, जो इस प्रकार हैं:- 

 

कन्हैया का भाजपा सरकार पर तंज, बोले- इनको इंसानों से ज्यादा 'कागज' की परवाह

- कोरोना महामारी तक आयकर के दायरे से बाहर आने वाले परिवारों के लिए 7500 प्रति महीना दिया जाए। 
- अगले छह महीने के लिए जरूरतमंद लोगों को हर महीने 10 किलोग्राम अनाज मिले।
 -प्रवासी मजदूरों को उनके गृह प्रदेश जाने के लिए मुफ्त परिवहन की व्यवस्था हो।
- श्रम कानूनों को खत्म करने के एकतरफा फैसले को स्थगित किया जाए। 

चेतन भगत ने बताए बिगड़ती अर्थव्यवस्था के 6 कारण, लोगों ने याद दिलाईं सरकार की नीतियां

- रबी समेत तमाम फसलों को फौरन एमएसपी पर खरीदा जाए। खरीफ फसलों की बुआई के लिए बीच, खाद और अन्य किसानी जरूरतों को पूरा किया जाए। 
- कोरोना महामारी में जूझ रहे राज्यों को फौरन फंड जारी किया जाए। 

प्रवासी मजदूरों की पीड़ा को देख हैरान-परेशान हैं अनुपम खेर और शेखर कपूर

- देशद्रोह, यूएपीए और एनएसए कानून के तहत सांप्रदायिक प्रोफाइलिंग, शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी और उन्हें टारगेट करने का क्रम रोका जाए। 

चंद्रशेखर ने अलका से की मायावती से माफी मांगने की बात, कांग्रेस नेता बोलीं- नहीं हूं सावरकर

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.