Tuesday, Feb 25, 2020
sonia gandhi will be new active president of congress cwc decided

CWC बैठक में हुआ फैसला- सोनिया गांधी होंगी अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष

  • Updated on 8/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस के नए अध्यक्ष पर फैसला करने के लिए दिल्ली में बुलाई गई कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में फैसला लिया गया है कि यूपीए अध्यक्ष सोनिया पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष होंगी। बता दें कि शनिवार को 5 समूह का गठन किया था, जिसका जिम्मा पार्टी के लिए अध्यक्ष की तलाश करना था।

कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित कांग्रेस के सभी नेता मौजूद रहे। बैठक में क्षेत्र के आधार पर पांच समूह बनाने का फैसला किया गया। इसके साथ ही नए अध्यक्ष की चयन प्रक्रिया से सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने खुद को अलग कर लिया। बैठक के बाद सोनिया गांधी ने कहा कि वे और राहुल नए अध्यक्ष के चयन प्रक्रिया का हिस्सा नहीं होंगे।

इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद पर बने रहने की अपील की थी। सुरजेवाला ने कहा  कि कांग्रेस को राहुल गांधी का मार्गदर्शन चहिये। उन्होंने कहा कि इस समय देश को एक मजबूत विपक्ष की जरूरत है और राहुल के नेतृत्व में कांग्रेस मजबूत विपक्ष देने में समर्थ है। इसके साथ ही राहुल से अध्यक्ष बने रहने की अपील की गई।  हालाकि उन्होंने अपील ठुकरा दी और इस्तीफा वापस नहीं लिया।

कश्मीरी ‘उपद्रवियों’ को विशेष विमान से भेजा जा रहा है आगरा की जेल में

पार्टी के नये अध्यक्ष को लेकर मुकुल वासनिक, मल्लिकार्जुन खडग़े, अशोक गहलोत, सुशील कुमार शिंदे सहित कई वरिष्ठ नेताओं के नामों की चर्चा थी। दरअसल, राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद से बनी असमंजस की स्थिति और नेतृत्व के संकट को खत्म करने की कोशिश करते हुए कांग्रेस ने आगामी 10 अगस्त को सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलायी थी।  

कांग्रेस की फजीहत करने वाले भुवनेश्वर कालिता ने थामा #BJP का दामन

पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहले पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी किसी युवा नेता को सौंपने की बात की और फिर महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के नाम की पैरवी की।  वैसे, कांग्रेस के कई दूसरे नेता भी अध्यक्ष पद के लिए प्रियंका के नाम की पैरवी कर चुके हैं। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद राहुल गांधी ने पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। 

जेटली की हालत नाजुक, शाह के बाद PM मोदी AIIMS पहुंचे, मेडिकल बुलेटिन जारी

उस वक्त उनके इस्तीफे को अस्वीकार करते हुए सीडब्ल्यूसी ने उन्हें पार्टी में आमूलचूल बदलाव के लिए अधिकृत किया था, हालांकि गांधी अपने रुख पर अड़े रहे और स्पष्ट कर दिया कि न तो वह और न ही गांधी परिवार का कोई दूसरा सदस्य इस जिम्मेदारी को संभालेगा। 

BSNL की जमीन को खास इकाई को सौंपेगी मोदी सरकार, यूनियन को ऐतराज!

अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए गांधी ने यह भी कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष नहीं रहते हुए भी वह पार्टी के लिए सक्रिय रूप से काम करते रहेंगे। उनके समर्थन में बहुत सारे नेताओं ने भी इस्तीफा दे दिया था।  गांधी के इस्तीफे के बाद से अगले अध्यक्ष के चुनाव को लेकर पार्टी में लगातार असमंजस की स्थिति बनी हुई है। नये अध्यक्ष को चुनने के लिए कई दौर की बैठकें हुईं, लेकिन किसी नाम पर सहमति नहीं बन पायी। 

अयोध्या मामले में SC ने पूछा- भूमि विवाद में जन्म स्थान को कैसे बनाया जा सकता है पक्षकार?

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.