Wednesday, Jun 03, 2020

Live Updates: Unlock- Day 2

Last Updated: Tue Jun 02 2020 11:13 PM

corona virus

Total Cases

207,085

Recovered

100,205

Deaths

5,829

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA72,300
  • TAMIL NADU24,586
  • NEW DELHI22,132
  • GUJARAT17,632
  • RAJASTHAN9,373
  • UTTAR PRADESH8,729
  • MADHYA PRADESH8,420
  • WEST BENGAL6,168
  • BIHAR3,945
  • ANDHRA PRADESH3,676
  • KARNATAKA3,221
  • TELANGANA2,792
  • JAMMU & KASHMIR2,601
  • HARYANA2,356
  • PUNJAB2,301
  • ODISHA2,104
  • ASSAM1,486
  • KERALA1,327
  • UTTARAKHAND959
  • JHARKHAND661
  • CHHATTISGARH548
  • TRIPURA423
  • HIMACHAL PRADESH340
  • CHANDIGARH297
  • MANIPUR83
  • PUDUCHERRY79
  • GOA73
  • NAGALAND43
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS33
  • MEGHALAYA28
  • ARUNACHAL PRADESH20
  • MIZORAM13
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3
  • DAMAN AND DIU2
  • SIKKIM1
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
sonia gandhi wrote to pm demanding 21day payment to mnrega laborers albsnt

Corona Effect: सोनिया गांधी ने पीएम मोदी से मनरेगा मजदूरों को 21 दिन के भुगतान के मांग की

  • Updated on 4/1/2020

नई दिल्ली/शेषमणि शुक्ल। कोरोना वायरस (Corona Virus) से उपजे संकट के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मनरेगा मजदूरों को 21 दिन की मजदूरी अग्रिम देने की मांग की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे एक पत्र में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लॉकडाउन के चलते इन मजदूरों के सामने रोजी-रोटी का संकट है और ऐसी स्थिति में इन्हें आर्थिक मदद की सख्त जरूरत है।

दिल्ली: राशन कार्ड न मिलने के कारण नाराज लोगों ने विधायक के घर के बाहर किया प्रदर्शन

सोनिया ने पहले भी पीेएम को लिखा पत्र

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार की ओर से उठाए गए लॉकडाउन के कदम और आर्थिक पैकेज का समर्थन कर चुकी कांग्रेस अध्यक्ष ने गरीब और वंचित वर्ग को हो रही दिक्कतों पर अपनी चिंता जताई है। इस बीच वे प्रधानमंत्री को कई पत्र भेज चुकी है। इसी कड़ी में बुधवार को उन्होंने एक और पत्र लिखा, जिसमें मनरेगा मजदूरों के सामने आए संकट का जिक्र किया।

Corona Effect: दिल्ली में लॉक डाउन के कारण दाने-दाने को मोहताज हुए सेक्स वर्कर्स

खेतिहर मजदूरों के पास नहीं हैं काम

उन्होंने कहा कि फसल कटाई के वक्त लाखों खेतिहर कामगारों के पास काम नहीं हैं। देश के लाखों ग्रामीण इस वक्त मनरेगा के तहत काम की उम्मीद लगाए हुए हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के चलते फिलहाल इनके पास कोई काम नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार ने भले ही मनरेगा में दिहाड़ी बढ़ा दी और तीन महीने का राशन भी मुफ्त कर दिया हो, लेकिन उनके पास नगदी की कमी है।

दिल्ली: सीएम केजरीवाल व LG अनिल बैजल ने लॉकडाउन की समीक्षा की

लॉकडाउन से दिहाड़ी मजदूरों का छिना रोजगार 

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते मनरेगा मजदूरों के पास कोई काम नहीं है, ऐसे में इस अवधि का अग्रिम भुगतान कर आठ करोड़ ग्रामीणों को सीधे आर्थिक मजबूती दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद जब काम शुरू होगा तो अग्रिम भुगतान को उनकी दिहाड़ी से समायोजित किया जा सकता है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.