Wednesday, Jun 26, 2019

तो इस आधार पर तूफानों को दिए जाते हैं अनोखे नाम, जानकर हैरान रह जाएंगे आप

  • Updated on 6/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। इस समय देश के कई हिस्सों में चक्रवात 'वायु' का खतरा मंडरा रहा है। कर्नाटक पहुंच चुका 'वायु' अब जल्द ही गुजरात में दस्तक दे सकता है। आपने एक बात पर गौर किया होगा कि जब-जब कोई तूफान आता है, उसे एक अलग नाम से जाना जाता है जो कि काफी अनोखा होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि किसी भी तूफान को किस आधार पर नाम ये अनोखा नाम दिया जाता है? इस खबर में हम आपको बताएंगे कि तूफानों का नामकरण कैसे किया जाता है।

तूफानों का नामकरण
हिंदमहासागर में हर साल अलग-अलग तरह के चक्रवाती तूफान आते रहते हैं। इन तूफानों का असर 8 देशों (भारत, बांग्‍लादेश, मालदीव, म्‍यांमार, ओमान, पाकिस्‍तान, श्रीलंका और थाइलैंड) पर पड़ता है। इसलिए साल 2000 से ऐसी परंपरा शुरू हुई थी कि ये सभी आठ देश अपने-अपने हिसाब से तूफानों का नामकरण करेंगे।

चिंता: क्या सुरक्षित हैं आपके बच्चे? शर्मसार कर देगा बच्चों के खिलाफ बढ़ते अपराध का ग्राफ

साल 2004 में सभी देशों के बीच तूफानों के नाम रखे जाने को लेकर सहमि‍त बनीं। सभी आठ देशों द्वारा कुल 64 नाम चुने गए हैं। इनमें सभी देशों ने अपनी तरफ से आठ नाम दिए हैं। इन नामों की सूची World Meteorological Organization (WMO) के पास सुरक्षित रखी गई है जिसका मुख्यालय जेनेवा में है। अब हिंदमहासागर में जब भी कोई तूफान आता है तो WMO सीरियल के आधार पर उस लिस्‍ट में आने वाले नाम पर तूफान का नाम रख देता है।

चाचा नेहरू की मौत के बाद बदली थी बाल दिवस की तारीख, पहले इस दिन मनाया जाता था चिल्ड्रेन्स डे

पाकिस्‍तान ने दिए हैं दिलचस्प नाम
जब तूफानों का नाम रखने की बात आई तो सभी देशों ने अपनी लिस्ट WMO को सौंप दी। भारत की ओर से अग्नि, आकाश, बिजली, जल, लहर, मेघ, सागर और वायु जैसे 8 नाम दिए गए हैं, वहीं पाकिस्तान ने बड़े ही दिलचस्प नाम दिए। पाक की ओर से फानूस, लैला, नीलम, वरदाह, तितली और बुलबुल के अलावा 2 और नाम दिए हैं।

#Children’s Day: जब नेहरु के लिए सिगरेट लेने इंदौर भेजा गया खास विमान, जानें ऐसी 10 अनोखी बातें

बांग्लादेश ने दिया था नाम 'Fani'
Fani चक्रवात का नाम बांग्लादेश ने रखा था। बांग्लादेश ने इस तूफान का नाम 'फणि' रखा था, इसका वहां उच्चारण फोनि किया जाता है। जब इस तूफान के नाम का सुझाव भेजा गया तो देश बदलने के साथ ही शब्दों का उच्चारण भी बदलता चला गया। अंग्रेजी में इसे (Fani) लिखा गया जिसकी वजह से हिंदी में भी इसका नाम फानी, फनी या फोनी पड़ गया। फनी चक्रवात का सही मतलब सांप है।

इन देशों ने दिया 'तितली', 'ओखी' और 'फेलिन' जैसे नाम
चक्रवाती तूफान 'तितली' का नाम पाकिस्‍तान द्वारा दिया गया था। जबकि उससे पहले पिछले साल मई में जो तूफान आया था 'ओखी' उसे बांग्‍लादेश की ओर से दिया गया था। साल 2013 में आए तूफान को 'फेलिन' कहा गया जो कि थाइलैंड की ओर से दिया गया नाम था। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.