Friday, Feb 28, 2020
spiritual and cultural ties between india and nepal are part of common heritage cm adityanath

भारत और नेपाल का आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक संबंध सांझी विरासत का हिस्सा:आदित्यनाथ

  • Updated on 2/13/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने  आज कहा कि भारत और नेपाल का आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक संबंध सांझी विरासत का हिस्सा है। इसमें राजनीति बाधक नहीं होनी चाहिए, बल्कि दोनों देशों को अपनी सांझी विरासत को और आगे बढ़ाना चाहिए।  सीएम योगी आदित्यनाथ आज अपने सरकारी आवास पर द्वितीय भारत-नेपाल द्विपक्षीय वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे 53 उपद्रवियों से UP सरकार वसूलेगी 23 लाख का हर्जाना

भारत-नेपाल के संबंध हैं बहुत घनिष्ठ

योगी ने कहा कि भारत समृद्ध होता है, तो नेपाल में भी समृद्धि आती है। क्योंकि आधा नेपाल तो भारत में बसता है। भारत-नेपाल वार्ता दोनों देशों की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विरासत के साथ-साथ व्यापार को भी नई ऊंचाइयों पर पहुंचाएगा। यह वार्ता इंडिया फाउंडेशन, नीति अनुसंधान प्रतिष्ठान नेपाल और नेपाल-इंडो चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (एनआईसीसीआई) काठमांडू के तत्वाधान में आयोजित की गई थी।  

महिलाओं के खिलाफ हो रहे क्राइम पर प्रियंका का योगी पर हमला, पूछा- कहां है सरकार  

भारतीय सेना में भी नेपाल के लोगों की है भागेदारी

वार्ता को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि दोनों देशों के लिए यह बेहतर पहल है। भारत-नेपाल प्राचीन काल से दो शरीर हैं, लेकिन हमारी सांस्कृतिक विरासत एक दूसरे को एकात्म में जोड़ती है। दोनों देशों का एक दूसरे से हित जुड़ा है। सीएम ने कहा कि भारतीय सेना और घरों में नेपाल के लोगों की विश्वसनीयता सबसे मजबूत है। भारतीय सेना में नेपाल के लोग एक सामान्य सिपाही से लेकर उच्च पदों पर हैं। ये भारत का विश्वास है। इन्हीं विश्वासों पर सांझी विरासत टिकी है।

बेरोजगारों को इंटर्नशिप कराएगी योगी सरकार, हर महीने मिलेंगे 2500 रुपए

नेपाल बन सकता बड़ा पॉवर सेंटर

उन्होंने कहा कि यूरोप के छोटे-छोटे देश, दुनिया में तेजी के साथ आगे बढ़ रहे हैं, फिर नेपाल इस प्रतिस्पर्धा में आगे क्यों नहीं बढ़ सकता है। योगी ने कहा कि नेपाल बड़ा पॉवर सेंटर बन सकता है, टूरिज्म का सबसे बड़ा हब बन सकता है। बशर्ते इसमें बाधक तत्वों को चिन्हित कर इसका समाधान किया जाए। द्विपक्षीय संबंधों से रिश्तों में जमी बर्फ अपने आप पिघलती दिखाई देगी।

हनुमान जी की भक्ति पर चले राजनीतिक तीर, आखिरी दिन भी बजरंगबली पर चले ट्वीट       

पीएम मोदी ने नेपाल से दोस्ती को बढ़ाया

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काशी विश्वनाथ से पशुपतिनाथ जी को जोडऩे का कार्य किया। जनकपुरी से अयोध्या को जोड़ा गया। वाराणसी अगर स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित हो रही है तो काठमांडू क्यों पीछे रहे। सीएम योगी ने कहा कि नेपाल को पहचानना होगा कि उसका शत्रु कौन है और मित्र कौन है? उन्होंने कहा कि यह नेपाल के लिए सुनहरा मौका है। काशी विश्वनाथ मंदिर को स्थानीय लोगों के रोजगार से जोड़ा गया।

उत्तरप्रदेशः फर्रुखाबाद में बंधक बनाए गए बच्चों को योगी ने किया सम्मानित

 उन्होंने कहा कि मंदिरों में चढऩे वाले पुष्प और अन्य वस्तुओं से इत्र और धूप बनाई जा रही है। इस कार्य को 50 महिलाओं का समूह करता है। ये महिलाएं कभी नक्सलवाद से पीड़ित रहे गांव की रहने वाली हैं। अब इनका परिवार आर्थिक रूप से समृद्ध हो रहा है। इसी तरह मंदिर से गाइड के रूप में जुड़कर नौजवान लाखों रुपए महीने कमा रहे हैं। एक मंदिर कितने लोगों को रोजगार दे रहा है। नेपाल में ऐसे अनेक मंदिर और सांस्कृतिक धरोहर हैं। इसे रोजगार से जोड़ा जा सकता है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.