Tuesday, Oct 04, 2022
-->
sri lanka army chief seeks people cooperation to maintain peace in country economic crisis

श्रीलंका के सेना प्रमुख ने देश में शांति बनाए रखने के लिए लोगों से सहयोग मांगा

  • Updated on 7/10/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। श्रीलंकाई सेना प्रमुख जनरल शैवेंद्र सिल्वा ने देश में शांति बनाए रखने के लिए लोगों से समर्थन मांगते हुए रविवार को कहा कि मौजूदा राजनीतिक संकट का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान का अवसर अब उपलब्ध है। यह बयान ऐसे समय में आया है जब श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने कुछ घंटे पहले ही 13 जुलाई को पद छोडऩे की सहमति जतायी। इस बीच श्रीलंका के आर्थिक संकट को लेकर भारत में भी सवाल उठ रहे हैं। विपक्ष दल के नेता मोदी सरकार की नीतियों पर भी सवाल उठा रहे हैं। इस कड़ी में इशारों में वाईएआर ने ट्वीट भी किया है।

5जी नीलामी में पहली बार आमने-सामने होंगे गुजरात के उद्योगपति अंबानी-अडानी

श्रीलंका में आर्थिक संकट को लेकर राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के इस्तीफे की मांग को लेकर बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी शनिवार को मध्य कोलंबो के कड़ी सुरक्षा वाले फोर्ट इलाके में राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास में घुस गए थे। प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के इस्तीफे की पेशकश किये जाने के बाद भी प्रदर्शनकारियों ने उनके निजी आवास में आग लगा दी। श्रीलंका के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल सिल्वा ने एक संक्षिप्त बयान में कहा कि मौजूदा संकट को शांतिपूर्ण तरीके से हल करने का अवसर उत्पन्न हुआ है। 

पूर्व पुलिस आयुक्त पांडे की कंपनी ने चित्रा समेत NSE कर्मचारियों के फोन टैप किए: CBI

‘कोलंबो गजट न्यूज’ पोर्टल ने बताया कि सिल्वा ने श्रीलंका के सभी लोगों से देश में शांति बनाए रखने के लिए सशस्त्र बलों और पुलिस का समर्थन करने का अनुरोध किया। यह बयान शनिवार को गाले फेस और फोर्ट तथा प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे के निजी आवास के पास हुई हिंसा के बाद जारी किया गया। इन घटनाओं के बाद राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे और प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने इस्तीफा देने की पेशकश की है।

विक्रमसिंघे के आवास को आग के हवाले करने को लेकर 3 गिरफ्तार 
श्रीलंका की पुलिस ने सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के निजी आवास को एक दिन पहले आग के हवाले करने को लेकर रविवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया। मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी दी गई। देश में अभूतपूर्व संकट को लेकर आक्रोशित प्रदर्शनकारियों का एक समूह शनिवार को यहां कैम्ब्रिज प्लेस स्थित विक्रमसिंघे के निजी आवास में घुस गया और इसे आग के हवाले कर दिया। 

पावरग्रिड के ED बीएस झा, ‘टाटा प्रोजेक्ट्स’ के 5 अधिकारियों को CBI ने किया गिरफ्तार

वेब पोर्टल ‘कोलंबो पेज’ की खबर में पुलिस प्रवक्ता एसएसपी निहाल तलदुआ के हवाले से कहा है कि गिरफ्तार किये गये लोगों में माउंट लवीनिया निवासी 19 वर्षीय एक व्यक्ति और गाले निवासी 24 एवं 28 साल के दो व्यक्ति शामिल हैं। उन्होंने कहा कि और गिरफ्तारियां हो सकती हैं, क्योंकि पुलिस ने अपनी जांच का दायरा बढ़ा दिया है। वेब पोर्टल ‘लंका फस्र्ट’ की खबर के मुताबिक, तलदुआ ने कहा कि संदिग्धों को फिलहाल कोलपेट्टी पुलिस की हिरासत में रखा गया है और उन्हें रविवार शाम तक अदालत में पेश किया जाएगा। 

धन शोधन मामला: ED ने अब सत्येंद्र जैन की पत्नी को किया तलब

 

comments

.
.
.
.
.