Thursday, Jan 23, 2020
sri sri ravi shankar requested bjp modi govt granting citizenship to sri lankan tamils

श्री श्री रविशंकर ने श्रीलंकाई तमिलों को नागरिकता देने का किया अनुरोध

  • Updated on 12/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने मंगलवार को केन्द्र से अनुरोध किया कि वह पिछले तीन दशक से भी ज्यादा वक्त से देश में शरणार्थियों की तरह रह रहे एक लाख से ज्यादा श्रीलंकाई तमिलों को नागरिकता देने पर विचार करे। 

NRC, नागरिकता विधेयक पर ममता बोलीं- किसी को नहीं बनने देंगे शरणार्थी

नागरिकता संशोधन विधेयक पर चिदंबरम बोले- सुप्रीम कोर्ट में लड़ेंगे लड़ाई

उन्होंने ट्वीट किया है, ‘‘मैं भारत सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह देश में पिछले 35 वर्ष से शरणार्थियों की तरह रह रहे एक लाख से भी ज्यादा श्रीलंकाई तमिलों को नागरिकता देने पर विचार करे।’’ रविशंकर ने यह अपील ऐसे वक्त में की है, जब एक दिन पहले ही लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित हुआ है। 

#CAB को लेकर अमित शाह पर अमेरिका में प्रतिबंध लगाने की मांग

इस प्रस्तावित कानून के तहत हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदाय के वे लोग जो 31 दिसंबर, 2014 से पहले पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए हैं, और अपने देश में धर्म के आधार पर प्रताडऩा झेल चुके हैं, उन्हें अवैध प्रवासी नहीं माना जाएगा और उन्हें भारत की नागरिकता दी जाएगी। तमिलनाडु में बड़ी संख्या में श्रीलंकाई तमिल रहते हैं।

BHU में संस्कृत पढ़ाने वाले डॉ. फिरोज खान ने दिया इस्तीफा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.