Tuesday, Feb 18, 2020
stock market up fourth day amid economic growth suryey all eyes on modi budget

शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन उछाल, बजट पर हैं नजरें

  • Updated on 7/4/2019

नई दिल्ली /टीम डिजिटल। आर्थिक समीक्षा में देश की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में 7 प्रतिशत रहने के अनुमान के बाद बृहस्पतिवार को शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। लगातार चौथे दिन शेयर बाजार में तेजी का रुख देखने को मिला। विश्लेषकों के मुताबिक निवेशक नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट को लेकर आशान्वित रहे। उन्हें उम्मीद है कि सरकार उपभोग बढ़ाने और वृद्धि को नयी गति देने वाले के कदम उठा सकती है। 

उच्च शिक्षण संस्थाओं में खाली पड़े हैं 80 हजार से ज्यादा पद, संसद में जताई चिंता

बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 68.81 अंक या 0.17 प्रतिशत चढ़कर 39,908.06 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 39,979.10 अंक और नीचे में 39,858.33 अंक के दायरे में रहा। इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 30 अंक यानी 0.25 प्रतिशत बढ़कर 11,946.75 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान निफ्टी ऊंचे में 11,969.25 अंक तक गया जबकि नीचे में 11,923.65 अंक तक गया।

कांग्रेस नेताओं को सताई पार्टी के भविष्य की चिंता, हरिश रावत भी आहत

भारती एयरटेल, टाटा मोटर्स, इंड्सइंड बैंक, कोटक बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, एशियन पेंट्स और पावरग्रिड के शेयरों में सबसे अधिक तेजी देखी गयी। वहीं येस बैंक, एचसीएल टेक, वेदांता, सन फार्मा, टाटा स्टील एलएंडटी, एचडीएफसी बैंक और एनटीपीसी के शेयरों में 3.56 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गयी। आनन्द राठी शेयर्स एंड स्टॉक ब्रोकर्स के बुनियादी शोध विभाग (निवेश सेवाओं) के प्रमुख नरेंद्र सोलंकी के मुताबिक आॢथक सर्वेक्षण में चालू वित्त वर्ष के दौरान जीडीपी वृद्धि के सात प्रतिशत पर रहने के अनुमान के बाद बाजार में धारणा सकारात्मक रही। 

न्यायमूर्ति कुरैशी के नाम को मंजूरी में देरी के खिलाफ SC में याचिका दायर

उन्होंने कहा,‘‘ऋण उठाव एवं मांग बढऩे से वित्त वर्ष 2019-20 में निवेश गति पकड़ता दिख रहा है। हालांकि इस सप्ताह मानसून की बारिश को लेकर चिंताओं की वजह से यह बढ़त सीमित रही।‘‘ बजट से पूर्व बृहस्पतिवार को संसद में पेश आर्थिक समीक्षा में कहा गया है कि 2024-25 तक पांच हजार अरब की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए जरूरी है कि देश अपनी आर्थिक वृद्धि की रफ्तार को बढ़ाए। 

#BJP की अनुशासन समिति को नहीं मिला आकाश विजयवर्गीय का मामला

क्षेत्रवार बात करें तो दूरसंचार, रीयल इस्टेट, एफएमसीजी और वाहन क्षेत्र के शेयरों में 1.53 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गयी। वहीं टिकाऊ उपभोग, धातु एवं स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के शेयरों में 1.58 फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी। इसी बीच अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 24 पैसे मजबूत होकर 68.89 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर पहुंच गया। 

नवजोत सिद्धू ने एक महीने बाद भी नहीं संभाला नए मंत्रालय का प्रभार 

एशियाई बाजारों की बात करें तो शंघाई और हांगकांग में बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं तोक्यो एवं सियोल में शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। यूरोप में शेयर बाजार प्रारंभिक सत्र में सकारात्मक रुख के साथ खुले। वहीं वैश्विक तेल बेंचमार्क, ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा 0.08 प्रतिशत गिरकर 63.77 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.