stone-pelting-during-eid-ul-adha-12-kanwari-injured

बदायूं: ईद की नमाज के दौरान हुआ पथराव, 12 कांवड़िये घायल

  • Updated on 8/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के इस्लामनगर थानाक्षेत्र के बदायूं-बिसौली मार्ग स्थित ईदगाह पर सोमवार को ईद की नमाज पढ़े जाने के दौरान हुए पथराव में वहां से गुजर रहे 12 कांवडिये घायल हो गए। एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि इस्लामनगर थानाक्षेत्र के बदायूं-बिसौली मार्ग स्थित ईदगाह पर ईद की नमाज पढ़ी जा रही थी। जहां पर काफी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग वहां नमाज पढ़ने जमा हुए थे।  

 देश भर में अदा की गई नमाज, पीएम मोदी सहित इन नेताओं ने कहा ईद मुबारक

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कांवड़िये का किया विरोध

त्रिपाठी ने बताया कि इसी बीच हरिद्वार से जल लेकर ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवार होकर कुछ कांवड़िये ईदगाह के सामने से गुजरने लगे। कांवड़ के साथ बज रहे डीजे साउंड सिस्टम का मुस्लिम समुदाय के लोगों ने विरोध किया। इस पर कांवड़ियों ने डीजे सिस्टम बंद कर दिया। इसी बीच किसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी और मारपीट शुरू हो गई।    

पी. चिदंबरम के बिगड़े बोल- मुस्लिम बहुल होने के कारण J&K से हटा अनुच्छेद 370

उन्होंने बताया कि संख्या में अधिक होने पर एक समुदाय के लोगों ने कांवड़ियों को खदेड़ दिया और उन पर जमकर पथराव किया। एसएसपी के मुताबिक, कांवड़ियों को पीटा भी गया। त्रिपाठी ने बताया कि कांवड़ियों ने लगभग दो किलोमीटर दौड़ कर किसी प्रकार अपनी जान बचाई। मौके पर तैनात पुलिसर्किमयों पर भी लोग हमलावर हो गए और पथराव किया। तीन महिला कांस्टेबल एवं पांच पुरुष कांस्टेबलों ने पास के पेट्रोल पंप में छिपकर किसी तरह जान बचाई।    

ManVsWild: आज एडवेंचर करते दिखेंगे पीएम मोदी, 180 देशों में प्रसारित होगा टीवी शो

उन्होंने बताया कि लगभग एक दर्जन कांवड़िये घायल हो गए हैं, जिनमें से एक कांवडिय़े के सिर में पत्थर लगने से उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। एसएसपी ने बताया कि एहतियात के तौर पर कई थानों की पुलिस और पीएसी बल तैनात कर दिया गया है। फिलहाल स्थिति सामान्य है और जिले के वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर जमे हुए है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.