Monday, Jan 24, 2022
-->
strict-laws-made-on-paper-leaks-of-competitive-exams-gpa

प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक पर बने सख्त कानून: जीपीए

  • Updated on 11/29/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक होने को लेकर जीपीए (गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन) ने सख्त कानून बनाए जाने को लेकर उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री से मांग की है। इस संबंध में सोमवार को मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन भी प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। एसोसिएशन के सचिव जगदीश बिष्ठ ने कहा कि रविवार को आयोजित हुई यूपी टीईटी परीक्षा का पेपर लीक होने पर उसे स्थगित करना पड़ा, जिसके चलते परीक्षार्थियों को मानसिक और आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ा।

हालांकि इस तरह की घटनाएं पहली बार नहीं हुई है। इससे पूर्व भी ऐसी घटनाएं हो चुकी है। अब समय आ गया है कि पेपर लीक जैसे मामले को लेकर सरकार गंभीरता अपनाएं और सख्त कानून बनाए जाएं। जहां पिछले कई वर्षों से प्रतियोगी परीक्षाओं का पेपर लीक करने वाले गिरोह सक्रिय है। लेकिन इन गिरोह पर ठोस कार्यवाही नहीं होने पर इनके हौसलें बुलंद है। जो आए दिन पेपर लीक करने की हिम्मत बना रहे है।

जिसका खमियाजा प्रदेश के लाखों अभ्यर्थियों को भुगतना पड़ा है। गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन मुख्यमंत्री से मांग करती है कि पेपर लीक के संबंध में सख्त से सख्त कानून बना उसका पालन राज्य में सुनिश्चित कराया जाए और साथ ही पेपर लीक में सक्रिय गैंग पर कठोर कार्रवई की जा सकें  और अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ ना हो। ज्ञापन देने के दौरान जसवीर रावत, नरेश कसाना, कौशल ठाकुर, कौशलेंद्र सिंह, विवेक त्यागी अन्य उपस्थित रहें। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.