Wednesday, Mar 20, 2019

गुरुकुल कांगड़ी विवि में छात्रों का हंगामा, प्रशासनिक भवन में की तालाबंदी

  • Updated on 3/9/2019

हरिद्वार/ब्यूरो। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में आक्रोशित छात्रों ने गुरुकुल प्रबंधन के खिलाफ प्रशासनिक भवन पर तालाबंदी करके जोरदार नारेबाजी की। नारेबाजी के दौरान गुरुकुल प्रशासन के खिलाफ तानाशाही रवैया अपनाने और करीब 21 करोड़ के ग्रांट के गोलमाल का भी आरोप लगाया। छात्रों ने चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगों पर गौर नहीं किया तो जल्द ही उग्र आंदोलन किया जाएगा।

गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में बड़ी तादाद में छात्र संघ पदाधिकारी और छात्र एकत्रित हुए। छात्रों का गुस्सा विवि की ओर से उनकी बीस सूत्रीय मांगों को पूरा नहीं करने को लेकर था। नाराज छात्रों ने छात्र संघ पदाधिकारियों के साथ प्रशासनिक भवन के मुख्य गेट में तालाबंदी कर आवाजाही बंद कर दी। बड़ी तादाद में छात्र संघ पदाधिकारियों के साथ छात्र धरने पर बैठ गये।

Video: बाबा रामदेव ने ट्विटर पर विदेशी कंपनियों के खिलाफ फूंका बिगुल 

छात्रों ने जोरदार नारेबाजी की। छात्रों और छात्र संघ पदाधिकारियों ने विवि प्रबंधन पर मांगों को लेकर तानाशाही करने का भी आरोप लगाया। छात्र संघ अध्यक्ष राहुल शर्मा ने बताया कि बिना छात्र संघ पदाधिकारियों के राय-मशविरा के स्नातक व स्नात्तकोतर छात्रों को सात प्रतिशत आरक्षण खत्म कर दिया गया। इसे तुरंत बहाल किया जाना चाहिए। 

कहा कि छात्रों के परिजन दूर से आते हैं उनके ठहरने की गेस्ट हाऊस में उचित व्यवस्था नहीं है। नया होटस्ल बनाने की जरूरत है। कुछ समय पहले 21 करोड़ का ग्रांट विवि को मिला था, उसका क्या हुआ कुछ पता नहीं। उसमें किसी तरह की राय छात्र संघ के पदाधिकारियों से नहीं ली गई। इस दौरान पूर्व अध्यक्ष विक्रम भुल्लर, अभिषेक, आदित्य, आयुष, तन्मय  राहुल चौधरी, दीपक कुमार, उत्कर्ष प्रताप, आयुष कुमार, अंकित, प्रभात आदि शामिल थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.