Sunday, Feb 23, 2020
subhash ghai slapped sanjay dutt for misbehaving with actress

B'dy spl: समझाने के बावजूद संजय दत्त ने की थी ऐसी हरकत कि गुस्से में सुभाष घई ने जड़ दिया था थप्पड़

  • Updated on 1/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हिंदी सिनेमा में शो मैन के नाम से मशहूर फिल्म मेकर सुभाष घई (subhash ghai) पूरे 75 साल के हो चुके हैं। एक दौर था जब सुभाष घई की फिल्म में हिस्सा बनने के लिए लोग सिफारिशें करवाते थे क्योंकि उस समय उनकी फिल्म में काम करना किसी भी एक्टर के लिए बहुत बड़ी बात मानी जाती थी। जी हां, सुभाष घई ने मनीषा कोइराला (Manisha Koirala), माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit), जैकी श्रॉफ (Jackie Shroff), सरोज खान (Saroj Khan), महिमा चौधरी (Mahima Chaudhry), ईशा श्रावणी, श्रेयस तलपड़े जैसे कई कलाकारों को इंडस्ट्री में उतारा।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Spoke on osho at Jabalpur osho birthplace. “ life is your guru - world is a class room “. Osho lines only 😎

दिस॰ 28, 2019 को 2:48पूर्वाह्न PST बजे को Subhash Ghai (@subhashghai1) द्वारा साझा की गई पोस्ट

फिल्मकार सुभाष घई ने की ओशो की ध्यान विधि पर अनुसंधान केंद्र बनाने की मांग

ओशो पर फिल्म बनाने जा रहे हैं सुभाष घई
वहीं 'ताल' (taal), 'कालीचरण' (kalicharan), 'सौदागर', 'खलनायक' (khalnayak), 'परदेस' (pardesh) जैसी कई हिट फिल्में देने वाले सुभाष घई पिछले लंबे समय से लाइट, एक्शन और कैमरा से दूर हैं। बताया जा रहा है कि वो बहुत जल्द ओशो पर एक फिल्म बनाने वाले हैं, जिसके लिए वह इंटरनेशनल कास्ट‍िंग की खोज में लगे हैं। ऐसे इसलिए क्यों वो इस फिल्म को ग्लोबल ऑडियंस के लिए बनाना चाहते हैं जोकि अंग्रेजी भाषा में रिलीज की जाएगी। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Happiness is nothing but a management within mind. Stay happy. Stay young 🕺🏽

जन॰ 22, 2020 को 3:04पूर्वाह्न PST बजे को Subhash Ghai (@subhashghai1) द्वारा साझा की गई पोस्ट

वहीं सूत्रों के अनुसार फिल्म को इंटैलियन डायरेक्टर लक्षेन सुकेमेली डायरेक्ट करेंगे और इसका निर्माण खुद सुभाष घई ही करेंगे। 

B'day Special: डायरेक्शन से पहले बतौर अभिनेता इन फिल्मों में काम कर चुके हैं सुभाष घई

संजय दत्त को सबके सामने जड़ा था थप्पड़
एक बार फिल्म 'विधाता' की शूटिंग के दौरान सुभाष घई ने सभी के सामने संजय दत्त (sanjay dutt) को थप्पड़ मार दिया था। दरअसल, सेट पर संजय दत्त नशे में धुत एक्ट्रेस पद्मिनी कोल्हापुरी से बदतमीजी करने लगे थे। ऐसे में संजय से परेशान होकर पद्मिनी वहां से चली गईं। इसके बाद सुभाष घई ने पद्मिनी से माफी मांगी और उन्हें समझाकर वापस सेट पर लाया। लेकिन संजय अपनी हरकतों से बाज नही आ रहे थे। ऐसे में सुभाष घई ने सबके सामने संजय को जोरदार थप्पड़ जड़ दिया।

बता दें कि सुभाष घई ने अपने करियर की शुरुआत बतौर अभिनेता की थी, लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। पहले घई ने ‘उमंग’ और ‘गुमराह’ जैसी फिल्मों में काम किया जो खास कमाल नहीं दिखा पाई। उसके बाद उन्होंने डायरेक्शन के क्षेत्र में कदम रखा। 1976 में बतौर निर्देशक उनकी पहली फिल्म ‘कालीचरण’ थी। यह फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई। इस फिल्म के लिए सुभाष घई को कई पुरस्कार मिले। 

B'day Spl: 'म' अक्षर से नाम शुरु होने वाली अभिनेत्रियों से घई का है खास नाता

सुभाष घई 'म' अक्षर को खुद के लिए मानते हैं लकी
वहीं सुभाष घई के बारे में आपको एक दिलचस्प बात बता दें कि उनको 'म' नाम की एक्ट्रेस बहुत पसंद आती हैं। उन्होंने जितनी हीरोईनों को बॉलीवुड में इंट्रोड्यूस किया उन सबके नाम का पहला अक्षर 'म' से शुरू होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि वह 'म' शब्द को अपने लिए लकी मानते हैं। 

यहां तक कि कई अभिनेत्रियों के नाम बदलकर भी उन्होंने म से रख दिए थे। जिसमें महिमा चौधरी और 'मीनाक्षी शेषाद्री' शामिल थीं। महिमा का असली नाम रितु चौधरी और मीनाक्षी का असली नाम 'शशिकला शेषाद्री' था। वहीं सुभाष की फिल्म 'हीरो' में मीनाक्षी शेषाद्री, 'राम लखन' में माधुरी दीक्षित, 'सौदागर' में मनीषा कोईराला और 'परदेश' में महिमा चौधरी हैं

comments

.
.
.
.
.