Sunday, Apr 18, 2021
-->
subramanian-swamy-shared-cartoon-on-new-parliament-prsgnt

मोदी के नए संसद भवन का शिलान्यास पर सुब्रमण्यन स्वामी ने शेयर किया मजाक उड़ाने वाला कार्टून

  • Updated on 12/10/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने नये संसद भवन (New Parliament) का शिलान्यास और भूमि पूजन किया। चार मंजिला नये संसद भवन का निर्माण कार्य भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ तक पूरा कर लिए जाने की संभावना है। नये संसद भवन का निर्माण 971 करोड रुपए की अनुमानित लागत से 64,500 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में किए जाने का प्रस्ताव है।

इस कार्यक्रम आरंभ वैदिक मंत्रोच्चार के बीच भूमि पूजन से हुआ और इसके संपन्न होने के बाद शुभ मुहुर्त में प्रधानमंत्री ने परम्परागत विधि विधान के साथ आधारशिला रखी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित कई केंद्रीय मंत्री, बड़ी संख्या में सांसद और कई देशों के राजदूत इस ऐतिहासिक अवसर के गवाह बने।

विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- चीन ने LAC पर सैनिक बढ़ाने के पांच अलग-अलग कारण बताएं

वहीँ, नए संसद भवन बनाने के फैसले पर राजयसभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए एक कार्टून शेयर किया है। इस कार्टून में जनता सरकार से सवाल करती नजर आ रही है कि पेट्रोल के दाम इतने ज्यादा क्यों हैं? जिसके जवाब में नीति आयोग कहता है कि पेट्रोल पर टैक्स नहीं लगाएंगे तो देश चलाने के लिए पैसा कहां से आएगा? इसके बाद फिर जनता सवाल करती है कि सरकार के पैसे की कमी है तो नए संसद भवन के लिए पैसे कहां से आए? इसके जवाब में नीति आयोग पीएम मोदी से कहता है, ‘जरूरत से ज्यादा लोकतंत्र का यही नतीजा होता है।’

गौरतलब है कि नये संसद भवन के निर्माण का प्रस्ताव उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू एवं लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने क्रमश: राज्यसभा और लोक सभा में 5 अगस्त 2019 को किया था। नये संसद भवन का डिजाइन अहमदाबाद के मैसर्स एचसीपी डिजाइन और मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा तैयार किया गया है और इसका निर्माण टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड द्वारा किया जाएगा।

2.5 करोड़ रुपये की CJI की मां को ठगने के आरोप में गिरफ्तार नागपुर का शख्स

 नये भवन को सभी आधुनिक दृश्य - श्रव्य संचार सुविधाओं और डाटा नेटवर्क प्रणालियों से सुसज्जित किया जाएगा। यह सुनिश्चित करने के लिए विशेष ध्यान दिया जा रहा है कि निर्माण कार्य के दौरान संसद के सत्रों के आयोजन में कम से कम व्यवधान हो और पर्यावरण संबंधी सभी सुरक्षा उपायों का पालन किया जाये। लोकसभा सचिवालय के मुताबिक नए संसद भवन के लोकसभा कक्ष में 888 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था होगी, जिसमें संयुक्त सत्र के दौरान 1224 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था भी होगी। इसी प्रकार, राज्य सभा कक्ष में 384 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था होगी।

नए संसद भवन में भारत की गौरवशाली विरासत को भी दर्शाया जाएगा। देश के कोने-कोने से आए दस्तकार और शिल्पकार अपनी कला और योगदान के माध्यम से इस भवन में सांस्कृतिक विविधता का समावेश करेंगे। संसद भवन से सटी त्रिकोणीय आकार की नई इमारत सुरक्षा सुविधाओं से लैस होगी। नई लोकसभा मौजूदा आकार से तीन गुना बड़ी होगी और राज्यसभा के आकार में भी वृद्धि की गई है। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.