Sunday, Aug 01, 2021
-->
sukhdev dhindsa says shiromani akali dal in compulsion break ties with bjp modi govt rkdsnt

मजबूरी में शिरोमणि अकाली दल ने मोदी सरकार से नाता तोड़ा : सुखदेव ढींढसा

  • Updated on 9/27/2020


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शिरोमणि अकाली दल (SAD) के बागी नेता सुखदेव सिंह ढींढसा ने रविवार को कहा कि शिअद ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) से नाता ‘मजबूरी’ में तोड़ा क्योंकि कृषि विधेयकों को लेकर किसान इस पार्टी से नाराज हो गये थे। उल्लेखनीय है कि कृषि विधेयक को लेकर शिअद ने शनिवार को राजग से अलग होने की घोषणा की। बता दें कि गत कुछ सालों में शिअद तीसरी पार्टी है जिसने भाजपा नीत राजग से नाता तोड़ा है। 

अमरिंदर सिंह के निशाने पर रहे शिरोमणि अकाली दल ने भाजपा से तोड़ा नाता

राज्यसभा सदस्य ढींढसा ने कहा, ‘‘ उन्होंने (शिअद) ने यह मजबूरी में किया क्योंकि किसान उनसे नाराज है।’’ उन्होंने कहा कि शुरुआत में शिअद ने विधेयकों का समर्थन किया था और यहां तक कि पार्टी के वयोवृद्ध नेता प्रकाश सिंह बादल ने भी इसके समर्थन में बोला था। असंतुष्ट अकाली नेता ने कहा, ‘‘पार्टी ने यह कहकर यू टर्न ले लिया कि यह किसानों के हित में नहीं है। क्या ये विधेयक शुरुआत में किसानों के लिए खराब नहीं थे?’’ 

बॉलीवुड ड्रग्स प्रकरण के बीच संजय राउत से मिले फडणवीस, भाजपा ने दी सफाई

उन्होंने आरोप लगाया,‘‘ वे (शिअद) राज्य में जमीनी समर्थन खो चुके हैं।’’ पूर्व में शिअद (लोकतांत्रिक) पार्टी बनाने वाले ढींढसा ने कहा कि उनकी राजनीतिक पार्टी शुरू से ही इस मुद्दे पर किसानों का समर्थन कर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘पहले दिन से हम किसानों का समर्थन कर रहे हैं और उनके साथ खड़े हैं। हमारी पार्टी चाहती है कि इस मुद्दे का यथा शीघ्र समाधान हो।’’ 

बिहार विधानसभा चुनाव : तेजस्वी, तेजप्रताप और पप्पू यादव के खिलाफ मामले दर्ज

उल्लेखनीय है कि इस साल फरवरी में पार्टी विरोधी गतिवधियें के आरोप में सुखदेव सिंह ढींढसा, उनके बेटे और राज्य के पूर्व वित्तमंत्री परमिंदर सिंह ढींढसा को शिअद से बर्खास्त कर दिया गया था।

ड्रग्स मामले में बॉलीवुड के बचाव में उतरे फिल्ममेकर विशाल भारद्वाज

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.