Sunday, Oct 21, 2018

गजब! बेटा हुआ 10वीं में फेल तो पिता ने दे दी पूरे मोहल्ले को पार्टी

  • Updated on 5/16/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हम हमेशा देखते हैं और देखते आये हैं कि जब भी कोई छात्र किसी कक्षा या किसी विषय में फेल हो जाता है, तो सबसे ज्यादा डांट-फटकार उसे अपने पिता से ही मिलती है। अगर कोई छात्र फेल हो जाता है तो वह इस डर में रहता है कि यह बात वह अपने परिवार से कैसे कहेगा। 

लेकिन दूसरी तरफ एक ऐसे पिता भी हैं, जिन्होंने अपने बेटे के 10वीं में फेल होने पर खुशियां मनाई। जैसे ही मध्यप्रदेश बोर्ड के परिणाम घोषित हुए और सुरेंद्र व्यास को पता चला उनका बेटा आशु व्यास फेल हो गया है। तो उसपर डांटने और चिल्लाने की बजाय उन्होंने जश्न मनाने का ऐलान कर दिया । 

हेगड़े बोले- कर्नाटक में हॉर्स ट्रेडिंग रोकने के लिए फौरन सदन बुलाएं राज्यपाल

सुरेंद्र व्यास मिठाइयां बंटवाई और यहाँ तक कि उन्होंने पटाखे भी जलाए। उनकी इस आतिशबाजी और खुशी को देख लोगों के मन में यह सवाल उठने लगा कि आखिर ये कैसे पिता हैं, जो अपने बेटे की फेल होने पर खुशियां मना रहे हैं।

सुरेंद्र व्यास एक सिविल कॉन्ट्रेक्टर है। उनके ऐसा करने के पीछे उन्होंने कारण भी बताया। सुरेंद्र व्यास ने कहा कि जब मुझे पता चला कि मेरा बेटा 6 में से 4 विषयों में फेल हो गया तो मैंने पार्टी करने का ऐलान कर दिया। क्योंकि मुझे डर था कहीं मेरा बेटा फेल हो जाने के डर से आत्महत्या का रास्ता न चुन लें। मुझे अपने बेटे को मोटिवेट करने का इससे बेहतर तरीका नहीं मिला।

महिला की आदत जान आप भी हो जाएंगे हैरान, नहाने के लिए खर्च करती है लाखों

सुरेंद्र व्यास ने आगे कहा कि मैंने अक्सर देखा कि जब बच्चे फेल हो जाते हैं। तो समाज और लोगों के डर से आत्महत्या करने की कोशिश करते हैं या खुद को नुकसान पहुंचाते हैं। उन्हें ऐसा लगता है कि फेल हो जाने के बाद जीवन में कुछ बचा ही नहीं। जो बच्चे फेल हो जाते हैं मैं उनसे कहना चाहता हूं बोर्ड परीक्षा कोई आखरी परीक्षा नहीं है। आप दोबारा भी परीक्षा दे सकते हैं और सफलता हासिल कर सकते हैं।

वहीं अपने पिता के इस फैसले पर बेटे आशु ने कहा है कि मैं अपने पिता के इस फैसले की सराहना करता हूँ और मैं वादा करता हूं कि मैं और भी मेहनत से पढ़ाई करूंगा और अगले साल अच्छे नंबर से परीक्षा को पास करूंगा। इस साल 14 मई को मध्यप्रदेश बोर्ड के परिणाम जारी किए गये हैं। जिसमें 10वीं कक्षा में कुल 66 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.