Tuesday, Oct 04, 2022
-->
supreme court asks modi yogi government to answer vacant posts in sc st commissions rkdsnt

SC-ST आयोगों में रिक्त पदों को लेकर कोर्ट ने केंद्र, योगी सरकार से किया जवाब तलब

  • Updated on 1/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार से राष्ट्रीय अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति आयोगों और उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति-जनजाति आयोग में अध्यक्षों और अन्य सदस्यों की नियुक्ति के अनुरोध वाली याचिका पर केंद्र तथा उत्तर प्रदेश सरकार से जवाब देने को कहा। 

IAS ऑफिसरों को संपत्ति का ब्योरा देने के लिए मोदी सरकार ने जारी किया आदेश

प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने इलाहाबाद के एक संगठन की जनहित याचिका पर संज्ञान लिया कि राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग (एनसीएससी), राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग (एनसीएसटी) और उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति आयोग में ऐसे समय में कई पद रिक्त हैं जब इन समुदायों पर ज्यादती के अनेक मामले आ रहे हैं। 

बदायूं कांड : महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी के खिलाफ आंगनवाड़ी कर्मियों ने खोला मोर्चा 

पीठ में जस्टिस ए एस बोपन्ना और जस्टिस वी रामसुब्रमण्यम भी शामिल हैं। पीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से हुई सुनवाई में आदेश दिया, ‘‘नोटिस जारी किया जाए।’’ शीर्ष अदालत ने उक्त आयोगों को भी नोटिस जारी किये। 

राहुल गांधी बोले- किसानों को ‘तारीख पे तारीख’ देना सरकार की रणनीति

संस्था ‘पीपल्स चैरियटीर ऑर्गेनाइजेशन’ (पीसीओ) की तरफ से पेश वकील राजेश इनामदार ने कहा कि एनसीएससी और एनसीएसटी में करीब दस महीने से अध्यक्ष, उपाध्यक्ष तथा सदस्य समेत अनेक पद खाली हैं, वहीं उत्तर प्रदेश के आयोग में भी 2019 से कुछ पद खाली हैं। जनहित याचिका में केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकारों को इन आयोगों में खाली पड़े पदों को भरने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है। 

किसान आंदोलन के बीच पीएम मोदी से मिले CM योगी, शाह से खट्टर की मुलाकात

 

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.