Wednesday, Dec 01, 2021
-->
supreme-court-circular-on-matter-of-listing-cases-in-front-of-vacation-benches-rkdsnt

अवकाशकालीन पीठों के सामने मामले सूचीबद्ध करने के विषय पर सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया सर्कुलर

  • Updated on 5/26/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उच्चतम न्यायालय ने ‘अत्यंत जरूरी विविध मामलों’ पर सुनवाई के लिए अवकाशकालीन पीठों के सामने मामलों को सूचीबद्ध करने के विषय पर एक परिपत्र जारी किया है। न्यायालय द्वरा मंगलवार को जारी इस परिपत्र में अवकाशकालीन पीठों से संबंधित सूचनाएं हैं। 

बाबा रामदेव ने दी चुनौती, बोले- किसी का बाप भी मुझे गिरफ्तार नहीं करा सकता

ये पीठें ग्रीष्मावकाश के दौरान 26 मई से दो जून के बीच सुनवाई करेंगी। उच्चतम न्यायालय 10 मई से 28 जून तक ग्रीष्मावकाश पर है। प्रधान न्यायाधीश जस्टिस एन वी रमण ने ‘‘परिर्वितत ग्रीष्मावकाश के दौरान इंसाफ की मांग को पूरा करने और अत्यंत ही जरूरी विविध मामलों’ पर सुनवाई के लिए’’ ये निर्देश जारी किये हैं। 

CBI के नए डायरेक्टर होंगे IPS अधिकारी सुबोध कुमार जायसवाल

परिपत्र के अनुसार परिर्वितत ग्रीष्मावकाश में 26 मई से दो जून तक दो खंडपीठें वीडियो काफ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई करेंगी। पहली पीठ में जस्टिस एल नागेश्वर राव और जस्टिस अनिरूद्ध बोस होंगे। दूसरी पीठ में जस्टिस बी आर गवई और जस्टिस सूर्यकांत 26 से 28 मई तक मामलों की सुनवाई करेंगे, उसके बाद इस पीठ में जस्टिस कृष्ण मुरारी जस्टिस कांत की जगह लेंगे और फिर यह परिर्वितत पीठ 29 मई से दो जून तक सुनवाई करेगी। 

भाजपा ने विरोधियों पर निशाना साधने के लिए टूलकिट का इस्तेमाल किया: राउत 

comments

.
.
.
.
.