Saturday, Aug 13, 2022
-->
supreme court collegium approved make additional judges high court permanent judges rkdsnt

कॉलेजियम ने हाई कोर्ट के अतिरिक्त जजों को स्थायी न्यायाधीश बनाने के प्रस्ताव को दी मंजूरी

  • Updated on 12/16/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उच्चतम न्यायालय की कॉलेजियम ने बंबई उच्च न्यायालय के तीन अतिरिक्त न्यायाधीशों की स्थायी न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।  प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने 14 दिसंबर की बैठक में इस बाबत निर्णय लिया और प्रस्ताव बृहस्पतिवार को शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर डाला गया। 

RBI के डिप्टी गवर्नर ने कहा- बड़े उद्योग घरानों को बैंक लाइसेंस देने पर विचार जारी

 

बंबई उच्च न्यायालय के इन तीन अतिरिक्त न्यायाधीशों में न्यायमूर्ति माधव जयाजीराव जामदार, न्यायमूर्ति अमित भालचंद्र बोरकर और न्यायमूर्ति श्रीकांत दत्तात्रेय कुलकर्णी हैं। कॉलेजियम ने यह सिफारिश करने का प्रस्ताव भी रखा कि न्यायमूर्ति अभय आहूजा को चार मार्च, 2022 के प्रभाव से एक साल के नये कार्यकाल के लिए बंबई उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया जाए। 

CRPF ने की VIP सुरक्षा शाखा के लिए एक अतिरिक्त बटालियन मंजूर करने की मांग

कॉलेजियम ने एक अन्य फैसले में कलकत्ता उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति अनिरुद्ध रॉय को उच्च न्यायालय के स्थायी न्यायाधीश के रूप में नियुक्त करने के प्रस्ताव को भी स्वीकार कर लिया। उच्च न्यायालयों के न्यायाधीशों के संबंध में निर्णय लेने वाले तीन सदस्यीय कॉलेजियम में न्यायमूर्ति रमण के अलावा न्यायमूर्ति यू यू ललित और न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर शामिल हैं। 

प्रधान न्यायाधीश रमण ने भारतीय मीडिया में गायब हो रही खोजी पत्रकारिता पर जताई चिंता

comments

.
.
.
.
.