Monday, Apr 22, 2019

मायावती को SC से मिला झटका, चुनाव आयोग के खिलाफ नहीं होगी सुनवाई

  • Updated on 4/16/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। लोकसभा चुनाव प्रचार (Lok Sabha election campaign) में आचार संहिता के उल्लंंघन (Violation of code of conduct) मामले में चुनाव आयोग (Election Commission) द्वारा अस्थाई रोक (Ban) पर बसपा (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से झटका मिला है। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग के बैन पर सुनवाई करने की अर्जी पर इनकार कर दिया है।

चुनाव प्रचार पर बैन के बाद मंदिर पहुंचे CM योगी, हनुमान चालीसा का किया पाठ

बता दें कि मायावती ने ये आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग ने मायावती को अगले 48 घंटे तक किसी भी प्रकार के चुनाव प्रचार अभियान में हिस्सा लेने से रोक दिया है। आयोग ने कड़ी फटकार लगाते हुये कहा कि इस अवधि में मायावती किसी भी जनसभा, पदयात्रा और रोड शो आदि में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।

इतना ही नहीं वह प्रिंट (Print) या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (Electronic Media) में साक्षात्कार (Interview) भी नहीं दे सकेंगी।मायावती को उत्तर प्रदेश (UP) के देवबंद (Deoband) में एक जनसभा के दौरान मुस्लिम मतदाताओं (Muslim Voter) से एक पार्टी को वोट नहीं देने की अपील करने पर आयोग ने चुनाव आचार संहिता का दोषी पाया था।

मायावती बोलीं- सरकारी शक्ति का दुरुपयोग कर रही है #BJP

इस पर मायावती ने चुनाव आयोग पर निशाना साधा है। उन्होंने ये भी कहा कि चुनाव आयोग के इस फैसले को उसकी दलित विरोधी सोच का नतीजा है। रोक लगने से पहले मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) कर कहा कि मुझे कारण बताओ नेटिस में ये नहीं कहा कि मैंने भड़काउ भाषण दिया था। उन्होंने मेरा पक्ष सुने बिना मुझ पर बैन लगा दिया और मोदी-शाह को खुली छूट है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.