Friday, May 14, 2021
-->
supreme court stayed high court decision to transfer hdil promoters arthur road jail residence

#PMC बैंक घोटाला: #HDIL प्रमोटरों को आर्थर रोड जेल में ही बितानी होंगी रातें

  • Updated on 1/16/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एचडीआईएल (HDIL) के प्रवर्तकों राकेश वधावन और सारंग वधावन को आर्थर रोड जेल से आवास में स्थानांतरित करने के बंबई उच्च न्यायालय के फैसले पर बृहस्पतिवार को रोक लगा दी। बंबई उच्च न्यायालय (Bombay High Court) ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए बुधवार को राकेश वधावन और सारंग वधावन को आर्थर रोड जेल से आवास में स्थानांतरित करने का आदेश दिया। 

शाहीन बाग के बाद खुरेजी, सीलमपुर में CAA के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और आर्थिक अपराध शाखा ने उच्च न्यायालय के इस फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी है। राकेश वधावन और सारंग वधावन को सात हजार करोड़ रुपये के पंजाब एंड महाराष्ट्र कॉपरेटिव (पीएमसी) घोटाले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।

उन्नाव रेप केस : बलात्कारी कुलदीप सेंगर ने दी उम्रकैद को हाई कोर्ट में चुनौती

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने मुख्य न्यायधीश एस.ए.बोबड़े की अगुवाई वाली पीठ के समक्ष इस मामले को रखा। पीठ में न्यायमूर्ति बी.आर.गवई और न्यायमूर्ति सूर्य कांत भी शामिल थे। मेहता ने पीठ को बताया कि राकेश वधावन और सारंग वधावन को आर्थर रोड जेल से आवास में स्थानांतरित करना दोनों को जमानत देने जैसा होगा। 

#JNU हमला : दिल्ली पुलिस की सक्रियता के बाद कोमल शर्मा ने लगाई गुहार

उन्होंने इस फैसले पर रोक लगाने की उच्चतम न्यायालय से मांग की। मेहता ने कहा कि उनकी आपत्ति सिर्फ दोनों प्रवर्तकों को आवास में स्थानांतरित करने को लेकर है। उन्होंने कहा कि बंबई उच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त समिति की निगरानी में प्रवर्तकों की संपत्तियों की बिक्री से संबंधित आवास को लेकर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। उच्चतम न्यायालय ने मेहता की दलीलों को स्वीकार किया और स्थानांतरण पर रोक लगा दी।

सुब्रमण्यम स्वामी ने दी मोदी सरकार को देवी लक्ष्मी का चित्र नोटों पर छापने की सलाह

comments

.
.
.
.
.