Wednesday, Oct 16, 2019
sushil modi said nitish will remain the face in the upcoming assembly elections

सुशील मोदी ने कहा- आगामी विधानसभा चुनाव में नीतीश ही रहेंगे चेहरा, सभी अटकलों को किया खारिज

  • Updated on 9/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 'बिहार में बहार है' या नहीं यह तो अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में जनता अपने वोट से प्रकट कर देगी। लेकिन बीजेपी (bjp) और जदयू (jdu) गठबंधन में सबकुछ ठीक चल रहा है यह कहना जल्दबाजी होगा क्योंकि दोनों दलों के नेता समय-समय पर तल्खी वाला बयान प्रकट करते रहते है। अब ताजा मुद्दा आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार (bihar) में सीएम पद को लेकर है, जिस पर विराम लगाते हुए डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी (sushil kumar modi) ने स्पष्ट किया है कि नीतीश ही एनडीए के चेहरे रहेंगे और सीएम भी बनेंगे। इससे पहले बीजेपी नेता संजय पासवान (sanjay paswan) ने कहा था कि नीतीश को सीएम पद छोड़ देना चाहिये, क्योंकि वोट तो पीएम नरेंद्र मोदी (narendra modi) पर ही मिलता है।


बिहार: JDU के प्रचार पर RJD का हमला- क्यों करें विचार हमें चाहिए तेजस्वी सरकार

संजय पासवान के बयान पर जदयू ने दी तीखी प्रतिक्रिया
संजय पासवान के बयान पर जदयू ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी। इस बीच बिहार बीजेपी के कद्दावर नेता सुशील मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि “नीतीश कुमार एनडीए के कैप्टन हैं और अगले 2020 के विधानसभा चुनाव में भी वह कैप्टन रहेंगे। जब कैप्टन चौके और छक्के लगा रहे हैं और इनिंग में विरोधियों को हरा रहे हैं तो फिर कैप्टन को बदलने का सवाल कहां से उठता है।”

"बिहार में बहार" को हटाकर "क्यों करें विचार ठीके तो है नीतीश कुमार" होगा JDU का स्लोगन

बीजेपी आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कर रही है मंथन
हालांकि उनके इस जवाब से भले ही संजय पासवान फिलहाल चुप बैठ जाए लेकिन राजनीतिक पंडितों का मानना है कि बीजेपी बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव में अकेले चुनाव में उतर सकती है। जिसके लिये हवा के रुख को समझने की कोशिश की जा रही है। इसलिये पार्टी के दूसरे कतार के नेताओं से बयानबाजी कराकर सीएम नीतीश कुमार पर दवाब बनाने की कोशिश में जुटी रहती है।


बिहार के पूर्व CM जगन्नाथ मिश्रा का दिल्ली में निधन, नीतीश सरकार ने किया राजकीय शोक का ऐलान

नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को भुनाने में जुटी बीजेपी

पार्टी का मानना है कि राज्य में जिस तरह से विपक्ष कमजोर है ऐसे वक्त में नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता को भुनाने के लिये सही समय पर सही निर्णय लेकर सत्ता हासिल की जा सकती है। जिसके लिये अभी से फील्डिंग को सजाया जा रहा है। अब यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि बीजेपी और जदयू गठबंधन मिलकर चुनाव लड़ेंगे या फिर बीजेपी अपना प्रयोग करने के लिये गठबंधन को तोड़कर आगे बढ़ेगी।   
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.