Saturday, Aug 13, 2022
-->
swadeshi jagran manch gathered to awaken swadeshi among people musrnt

लोगों में स्वदेशी की अलख जगाने में जुटा स्वदेशी जागरण मंच

  • Updated on 6/23/2020

नई दिल्ली/ निशांत राघव। आरएसएस के अनुषांगिक संगठन स्वदेशी जागरण मंच (एसजेएम) ने स्वदेशी वस्तुओं को अपनाने, उसे प्रयोग करने और चीनी वस्तुओं को बहिष्कार करने को प्रेरित करने के लिए देश भर में स्वदेशी एजुकेटर और स्वदेशी वॉलंटियर बनाने का अभियान शुरू किया है। पंजाब, हरियाणा से इसको शुरू किया है,जल्द ही इस देश के अन्य हिस्सों में ले जाया जाएगा।

इसके अलावा स्वदेशी सामान अपनाने से जुड़े अभियान से अभी तक 20 देशों के करीब 6 लाख लोग जुड़ चुके हैं। बताया जाता है कि इसमें अमरीका, फ्रांस, जर्मनी,जापान और नेपाल जैसे देशों में रहने वाले भारतीय खुद से इस अभियान के संकल्प पत्र को भरकर हस्ताक्षर कर रहे हैं। 

स्वदेशी जागरण मंच के सह संयोजक अश्विनी महाजन ने बताया कि मंच युवाओं को स्वेदशी एजुकेटर बना रहा है जो स्कूलों और कॉलजों में बच्चों-युवाओं को स्वदेशी चीजें अपनाने के लिए जागरुक कर सकें। हरेक प्रांत से करीब 8-10 युवाओं को इसमें जोड़ा जाएगा।

महाजन ने कहा कि फिलहाल चीन के सामान का बहिष्कार करना और भविष्य में आत्मनिर्भर होकर विदेशी सामान नहीं खरीदने के लिए लोगों को जागरुक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में स्वदेशी एजुकेटर को पंजाब, हरियाणा से शुरू किया है। जल्द ही राजस्थान,उत्तर प्रदेश सहित देश भर में इसको चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान के साथ ज्वाइन स्वदेशी अथवा स्वदेशी वॉलंटियर या वॉरियर के जरिए वॉलंटियर्स की टीम भी तैयार कर रहे है। 

संगठन ने ये अभियान गूगल के माध्यम से चलाया है और बड़ी संख्या में लोग फॉर्म भरकर स्वदेशी अपनाने व वॉलंटियर बनने का संकल्प कर रहे हैं। मंच के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुशील पांचाल ने कहा कि कॉलेज की पढ़ाई पूरी कर लेने वालों को स्वदेशी एजुकेटर में शामिल किया जा रहा है।

ये स्कूलों और कॉलेजों में जाकर बच्चों-युवाओं और अलग अलग मंचों से लोगों से स्वदेशी को अपनाने के लिए बात करेंगे। उन्हें इसके फायदे समझाएंगे। उन्होंने कहा स्वदेशी एजुकेटर के लिए किसी विशेषता की जरूरत नहीं है, कोई भी अपनी स्वेच्छा से बन सकता है।

उन्होंने कहा कि स्वदेशी जागरण के मंच के साथ में वीएचपी और उसकी युवाएं शाखाएं बजरंग दल और दुर्गा वाहिनी के कार्यकर्ता भी घर घर जाकर लोगों से स्वदेशी वस्तुएं अपनाने को लेकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.