Monday, Jun 27, 2022
-->
swami ramdev said ima has no lab no scientist rkdsnt

स्वामी रामदेव बोले- IMA के पास ना कोई लैब, ना वैज्ञानिक

  • Updated on 6/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। स्वामी रामदेव ने कहा कि कोरोनिल समेत पतंजलि की तमाम दवाएं साइंटिफिक रिसर्च के बाद तैयार की गई हैं। विश्व के टॉप जनरल्स में शोध पत्र प्रकाशित हुए हैं। अगर हमने आई.एम.ए. से वैलिडेशन नहीं कराया, तो क्या इस पर आपत्ति है। हमने उनको पत्र नहीं लिखा, पैसे नहीं दिए। उन्होंने कहा कि एलोपैथी कोई धंधापैथी नहीं है।

अलपन बंद्योपाध्याय को आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत गृह मंत्रालय का नोटिस

रामदेव ने कहा कि उनकी डाक्टरों से कोई लड़ाई नहीं है। जो भी एक दो हजार डॉक्टर उनके यहां आना चाहते हैं, आ जाएं। उनकी निशुल्क व्यवस्था करेंगे। जिनके पास किराया नहीं है, उनको किराया भाड़ा भी देंगे। उनका बीपी, शुगर, थायराइड क्योर करके देंगे जिन्हें वे केवल कंट्रोल कर पाते हैं। किसी से एक चवन्नी नहीं लेंगे। कुछ लोगों को केवल भगवा कपड़े से आपत्ति है।

केजरीवाल ने मोदी सरकार से फिर की 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने की अपील 

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए एक वीडियो में स्वामी रामदेव ने कहा कि आई.एम.ए. कोई साइंटिफिक बॉडी नहीं है। इनके पास ना कोई लैब है, ना कोई साइंटिस्ट। यह एक एन.जी.ओ. है। कुछ डॉक्टर देखा देखी, इसके मेंबर बन गए। आई.एम.ए. कभी पेंट को प्रमाणित करता है, कभी झाड़ू पोंछा लगाने वाली चीज को प्रमाणित करते हैं, कभी बल्ब को। उन्होंने कहा कि आई.एम.ए. अध्यक्ष ने तो हद कर दी। उनके अध्यक्ष कह रहे थे कि यह कन्वर्जन का अच्छा मौका है। एलोपैथी को ओझा पैथी बनाने का प्रयास कर रहे थे।

अखिलेश बोले- बंगाल की तर्ज पर CM योगी की मर्जी के बगैर थोपा जा रहा है रिटायर ऑफिसर

 
जाएगी पतंजलि की ब्लैक फंगस की आयुर्वेदिक दवा
पतंजलि योगपीठ की ओर से ब्लैक फंगस की दवा तैयार कर ली गई है। यह दवा एक सप्ताह के बाद लॉन्च की जाएगी। दवा को लेकर जरूरी औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं। स्वामी रामदेव ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो शेयर किया है। इसमें उन्होंने कहा कि एक सप्ताह बाद ब्लैक फंगस, येलो फंगस और व्हाइट फंगस की आयुर्वेद की दवा आ जाएगी। इस पर काम पूरा हो चुका है। दवा निर्माण का काम फाइनल स्टेज में है। उन्होंने कहा कि इतने सारे विवाद के बाद भी परमार्थ के कार्य में लगे हैं। 18 घंटे काम कर रहे हैं।

BHU वैज्ञानिकों का दावा- कोरोना को मात दे चुके लोगों के लिए वैक्सीन की एक खुराक ही काफी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.