Thursday, Jan 20, 2022
-->
swatantradev singh read the ballads of the government''''s plans

सरकार की योजनाओं के स्वतंत्रदेव सिंह ने पढे कसीदे, परंतु कृषि कानून वापसी पर साधी चुप्पी

  • Updated on 11/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। मोदी जी जानते थे कि गरीबों के सबसे अधिक शोषण होता है। इसलिए उन्होंने सबसे पहले गरीबों के बैंक खाते खुलवाए। ताकि सरकार की योजनाओं का सीधा लाभ उन तक पहुंच सके। मोदी सरकार को गरीबों की सबसे बड़ी हितैषी बताने के यह दावे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने रविवार को किए। वह गाजियाबाद में विजय नगर के लीलावती स्कूल में आयोजित श्रमिक चौपाल और भाजपा सदस्यता अभियान के लिए आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे। हालांकि इस दौरान उन्होंने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के सरकार के फैसले को लेकर कुछ नहीं कहा। 

कार्यक्रम में स्वतंत्र देव सिंह ने फीता काट कर श्रमिक ई-कार्ड का उद्धाटन किया। उन्होंने अपने संबोधन में श्रमिक व गरीबों के लिए चल रही योजनाओं का बारे में बताया। आयोजन में भाजपाईयों को उन्होंने निर्देश दिए कि सभी योजनाओं को पात्र लोगों तक पहुचाया जाना चाहिए। यदि किसी श्रमिक को इन योजनाओं की जानकारी नहीं है, तो भाजपा के कार्यकर्ताओं द्वारा आयोजित की जा रही श्रमिक चौपाल जानकारी पहुंचाने का जरिया बने। 

उन्होंने कहा कि मोदी व योगी सरकार ने शहर व गांव में सात लाख से अधिक गरीब लोगों को आवास देने का काम किया है। साथ ही गरीबों को पांच लाख रुपये तक का हेल्थ इंश्योरेंस आयुष्मान योजना के तहत दिया गया है। पिछली सरकारो में शौचालय व गैस सिलेंडर जैसी चीजें बड़े लोगो के यहां होती थीं। सरकार ने सभी गरीबो के घर शौचालय व गैस सिलेंडर पहुचाने का काम किया है।  इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, अनिल अग्रवाल, आशा शर्मा, बलदेव राज शर्मा, मान सिंह, पवन गोयल, अमित त्यागी, गोपाल अग्रवाल, पप्पू पहलवान, सुशील गौतम, गुंजन शर्मा आदि उपस्थित रहे।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.